चुनाव के बीच GST Collection में आया उछाल, अप्रैल महीने में बना दिया रिकॉर्ड

अप्रैल 2024 में पहली बार GST Collection में 2 लाख करोड़ का आंकड़ा पार करते हुए, 2.10 लाख करोड़ का जीएसटी कलेक्ट किया है।
चुनाव के बीच GST Collection में आया उछाल, अप्रैल महीने में बना दिया रिकॉर्ड
चुनाव के बीच GST Collection में आया उछाल, अप्रैल महीने में बना दिया रिकॉर्डRaj Express
Author:
Shreya N

हाइलाइट्स:

  • ऑल टाइम हाई GST कलेक्शन हुआ।

  • सबसे ज्यादा GST महाराष्ट्र से कलेक्ट हुआ।

  • GST कलेक्शन में सबसे ज्यादा 52% बढ़ोतरी मिजोरम में।

All Time High GST Collection: लोकसभा चुनावों के बीच, अप्रैल महीने में GST Collection ने नया रिकॉर्ड दर्ज कर लिया है। अप्रैल 2024 में अब तक का हाईएस्ट 2.10 लाख करोड़ जीएसटी कलेक्ट किया गया है। पिछले साल 2023-24 में अप्रैल में 1.87 लाख करोड़ जीएसटी कलेक्ट किया गया था। यह पिछले साल का सबसे बड़ा जीएसटी कलेक्शन फिगर था। वित्त वर्ष 2024-25 के पहले ही महीने में GST Collection का रिकॉर्ड बना है। यह जानकारी वित्त मंत्रालय द्वारा साझा की गई है। इससे पहले 2 लाख करोड़ का हाईएस्ट जीएसटी कलेक्शन का रिकॉर्ड था।

रिफंड के बाद नेट रिवेन्यू 1.92 लाख करोड़ दर्ज किया गया है। इसमें पिछले साल की तुलना में 17.1% की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। 

वित्त वर्ष 2023-24 और 2024-25 में जीएसटी कलेक्शन
वित्त वर्ष 2023-24 और 2024-25 में जीएसटी कलेक्शनRaj Express

महाराष्ट्र से सबसे ज्यादा कलेक्शन, मिजोरम में सबसे ज्यादा ग्रोथ

राज्यों के हिसाब से GST कलेक्शन में, सबसे ज्यादा जीएसटी महाराष्ट्र से कलेक्ट किया गया है। प्रदेश ने 37,671 करोड़ का जीएसटी दिया है। यह पिछले साल 33,196 करोड़ से 13% ज्यादा है। दूसरे नंबर पर 15,978 करोड़ के साथ कर्नाटक और तीसरे नंबर पर 13,301 करोड़ के साथ गुजरात ने सबसे ज्यादा GST कलेक्ट किया है। सबसे कम 1 करोड़ का जीएसटी लक्षद्वीप से कलेक्ट किया गया है। पिछले साल 3 करोड़ की तुलना में इसमें 57% की भारी गिरावट आई है। इसके अलावा जीएसटी कलेक्शन में सबसे ज्यादा 52% की बढ़ोतरी मिजोरम में देखी गई है। यहां पिछले वित्त वर्ष में 71 करोड़ का जीएसटी कलेक्शन हुआ था, जो इस साल बढ़कर 108 करोड़ हो गया है। 

राज्यों का जीएसटी कलेक्शन
राज्यों का जीएसटी कलेक्शनRaj Express

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com