आज रुपए में बड़ी गिरावट : 9 पैसे गिरकर सबसे निचले स्तर पर पहुंची भारतीय मुद्रा

Dollar vs Rupee : भारतीय मुद्रा में आज बड़ी गिरावट देखने को मिली है। रुपया आज सुबह मंगलवार को डॉलर की तुलना में 83.53 के सबसे निचले स्तर पर जा पहुंचा।
Dollar vs Rupee: Big fall in Rupee
आज रुपए में बड़ी गिरावट Raj Express

हाईलाइट्स

  • डॉलर की तुलना में 83.53 के अपने सबसे निचले स्तर पर जा पहुंचा रुपया

  • इसकी वजह डॉलर मजबूत होना, मध्यपूर्व संकट और विदेशी निवेश में कमी

  • भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के हस्तक्षेप रुकी रुपए में हो रही गिरावट

राज एक्सप्रेस । Big fall in rupee...भारतीय मुद्रा में आज आज रुपए में बड़ी गिरावट देखने को मिली है। आज सुबह मंगलवार को रुपया डॉलर की तुलना में 83.51 रुपए के स्तर पर खुला। इसके बाद इसमें और गिरावट आई। जिसके बाद रुपया 83.53 के अपने सबसे निचले स्तर पर जा पहुंचा। इससे पहले रुपया सोमवार को 6 पैसे गिरकर 83.44 पर बंद हुआ था। बता दें कि इससे पहले डॉलर के मुकाबले रुपये ने सबसे निचला स्तर इसी माह की 4 अप्रैल को छू लिया था, जब रुपया डालर के मुकाबले 83.45 रुपए के स्तर पर जा पहुंचा था।

रुपए में गिरावट की कई वजहें

आज रुपए में बड़ी गिरावट की कई वजहें बताई जा रही हैं। इसमें एक वजह यह है कि हाल के दिनों में डॉलर मजबूत होकर उभरा है। दूसरी वजह मध्य पूर्व में संघर्ष और कच्चे तेल की कीमत में वृद्धि को बताया जा रहा है। डॉलर अपने छह माह के उच्चतम स्तर पर जा पहुंचा है। ईरान और इजरायल के बीच पिछले काफी दिनों से जारी विवाद ने अब युद्ध का रूप ले लिया है। यही वजह है निवेशक अपने शेयर बेचकर डॉलर में निवेश कर रहे हैं।

जानिए किन वजहों से गिरा रुपया

ईरान इजराइल संघर्ष के कारण कच्चे तेल की कीमतों में भी बढ़ोतरी की आशंका पैदा हो गई है। साथ ही सोना और चांदी अपने रिकार्ड हाई पर जा पहुंचे हैं। आखिर किस वजह से आई रुपए में गिरावट ? घरेलू बाजार का नकारात्मक ट्रेंड और विदेशी मुद्रा की बड़े पैमाने पर निकासी की वजह से भी रुपए के कमजोर होने की वजह रही है। एक्सचेंज के आंकड़ों के अनुसार विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) लगातार भारतीय शेयर बाजारों से पैसे निकालने में लगे हैं।

गिरावट रोकने को आरबीआई दिया दखल

Big fall in rupee, अमेरिकी केंद्रीय बैंक के ब्याज दरों में कटौती नहीं करने की वजह से भी रुपए में गिरावट आई है। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) को गिरावट रोकने के लिए दखल देना पड़ा है। आरबीआई एक बार फिर रुपए में बड़ी गिरावट को रोकने में कामयाब रहा है। अगर रुपए की गिरावट और नीचे जाती तो इससे बड़ी परेशानी पैदा हो सकती थी। आरबीआई अगर हस्तक्षेप नहीं करता तो और गिरावट देखने को मिल सकती थी।

रुपए के गिरने का मतलब ज्यादा भुगतान

आज रुपए में बड़ी गिरावट का मतलब है कि विदेश से आने वाली सामन पर अब पहले की तुलना में ज्यादा भुगतान करना होता है। आयातित सामान के महंगा होने का असर विभिन्न रूपों में लोगों को प्रभावित करता है। महंगाई बढ़ने पर रेपो रेट में इजाफा होना स्वाभाविक है। इसका असर बैंकों से मिलने वाला ऋण पर भी पड़ता है। रुपये में गिरावट की वजह से विदेश में पढ़ाई से लेकर कोई उपभोक्ता वस्तु खरीदना पहले की तुलना में महंगा हो जाएगा। यह देश की अर्थव्यवस्था से लेकर भारतीय लोगों के जीवन तक को विभिन्न तरह से प्रभावित करता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com