decline in inflation rate
decline in inflation rateRaj Expression

महंगाई के मोर्चे पर फिर मिली बड़ी सफलताः शून्य से 0.52% नीचे रही थोक मूल्य आधारित महंगाई की दर

खुदरा महंगाई के बाद थोक मूल्य पर आधारित महंगाई के मोर्चे पर अच्छी खबर है। थोक मूल्य पर आधारित महंगाई दर अक्टूबर में शून्य से 0.52 प्रतिशत नीचे रही है।

हाईलाइट्स

  • डब्ल्यूपीआई पर आधारित मुद्रास्फीति की दर अप्रैल से लगातार शून्य से नीचे बनी है।

  • सितंबर माह में मुद्रास्फीति की दर शून्य से 0.26 प्रतिशत नीचे थी।

  • अक्टूबर 2022 में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति 8.67 प्रतिशत थी।

राज एक्सप्रेस। खुदरा महंगाई के बाद थोक मूल्य पर आधारित महंगाई के मोर्चे पर अच्छी खबर है। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि थोक मूल्य पर आधारित महंगाई दर अक्टूबर में शून्य से 0.52 प्रतिशत नीचे रही है। होलसेल प्राइस इंडेक्स (डब्ल्यूपीआई) पर आधारित मुद्रास्फीति की दर अप्रैल से लगातार शून्य से नीचे बनी हुई है। सितंबर में यह शून्य से 0.26 प्रतिशत नीचे थी। इसके मुकाबले अक्टूबर 2022 में थोक मूल्य सूचकांक आधारित मुद्रास्फीति 8.67 प्रतिशत थी।

खाद्य पदार्थों में भी कम हुई महंगाई

बीते अक्टूबर माह के दौरान खाद्य वस्तुओं की महंगाई दर घटकर 2.53 प्रतिशत के स्तर पर आ गई है। जबकि, एक माह पहले सितंबर में यह 3.35 प्रतिशत पर थी। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने मंगलवार को एक बयान में बताया कि अक्टूबर 2023 में मुद्रास्फीति की दर शून्य से नीचे रही है। इसकी मुख्य वजह पिछले साल के इसी माह की तुलना में रसायनों और रासायनिक उत्पादों, बिजली, कपड़ा, बुनियादी धातुओं, खाद्य उत्पादों, कागज और कागज उत्पादों आदि की कीमतों में गिरावट देखने को मिली।

पांच माह के निचले स्तर पर खुदरा महंगाई

इसी तरह, ईधन और बिजली सेगमेंट में मुद्रास्फीति अक्टूबर में शून्य से 2.47 प्रतिशत नीचे रही, जो सितंबर में शून्य से 3.35 नीचे थी। इसी तरह उत्पादित वस्तुओं की महंगाई की दर अक्टूबर माह में शून्य से 1.13 प्रतिशत नीचे रही है। इसके विपरीत, सितंबर माह में यह शून्य से 1.34 प्रतिशत नीचे थी। राष्ट्रीय सांख्यिकीय कार्यालय (एनएसओ) की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों के अनुसार, अक्टूबर में खुदरा मूल्यों पर आधारित मुद्रास्फीति की दर सालाना आधार पर घटकर पांच माह के निचले स्तर 4.87 प्रतिशत पर आ गई है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com