PM Modi and Jo Biden
PM Modi and Jo BidenRaj Express

जी-20 बैठक से पहले बाइडेन व पीएम मोदी की बैठक में सुलझा दोनों देशों के बीच जारी अहम विवाद

जी20 सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए दिल्ली पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन और पीएम मोदी के बीच हुई बैठक में एक अहम विवाद का समाधान हो गया है।

हाईलाइट्स

  • बैठक के बाद सातवें और अंतिम बकाए को लेकर वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजनेशन (डब्ल्यूटीओ) से जुड़ा विवाद खत्म हो गया

  • पीएम मोदी और राष्ट्रपति बाइडेन के बीच होने वाली इस बैठक में अमेरिकी ट्रेजरी सेक्रेटरी जैनेट येलेन भी उपस्थित रहीं

  • इससे पहले जून 2023 में विश्व व्यापार संगठन (डब्ल्यूटीओ) में छठे बकाए से जुड़े विवाद का निपटारा हुआ था

राज एक्सप्रेस । जी20 सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन राजधानी दिल्ली पहुंच चुके हैं। इस मौके पर दोनों देशों के बीच एक अहम विवाद का समाधान हो गया है। नई दिल्ली पहुंचने के बाद राष्ट्रपति जो बाइडेन और पीएम मोदी के बीच हुई बैठक के बाद सातवें और अंतिम बकाए को लेकर वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजनेशन (डब्ल्यूटीओ) से जुड़ा विवाद खत्म हो गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति और पीएम मोदी के बीच बैठक में इस विवाद के समाधान के बाद दोनों देशों ने अपने एक संयुक्त बयान में यह जानकारी दी।

पीएम मोदी व जो बाइडेन के बीच हुई बैठक

जी20 सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए नई दिल्ली पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन राजधानी में जोरदार स्वागत किया गया । राष्ट्रपति बाइडेन के दिल्ली पहुंचने के बाद पीएम मोदी के साथ हुई बैठक में दोनों देशों के बीच जारी एक अहम विवाद का निपटारा हो गया है। दोनों के बीच सातवें और अंतिम बकाए को लेकर वर्ल्ड ट्रेड ऑर्गेनाइजनेशन (डब्ल्यूटीओ) का विवाद खत्म हो गया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति के दिल्ली पहुंचने के कुछ ही घंटों के बाद पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के बीच बैठक के बाद दोनों देशों ने एक संयुक्त बयान जारी करके यह जानकारी दी। पीएम मोदी और राष्ट्रपति बाइडेन के बीच होने वाली इस बैठक में अमेरिकी ट्रेजरी सेक्रेटरी जैनेट येलेन भी उपस्थित रहीं। इससे पहले जून 2023 में डब्ल्यूटीओ में छठे बकाए से जुड़े विवाद का निपटारा हुआ था।

पोल्ट्री से जुड़ा एकमात्र बचा मसला सुलझ गया

डब्ल्यूटीओ के दस्तावेजों के मुताबिक भारत ने अमेरिका से अंडे और चिकन जैसे पोल्ट्री प्रोडक्ट्स मंगाने पर रोक लगा दी थी। 19 जुलाई 2011 के गजट नोटिफिकेशन के मुताबिक यह रोक एवियन इंफ्लूएंजा यानी बर्ड फ्लू को लेकर लगाई गई थी। इस मामले को लेकर अमेरिका 6 मार्च 2012 को डब्ल्यूटीओ में याचिका दायर की थी। इस साल 21-23 जून के बीच पीएम मोदी जब अमेरिकी दौरे पर थे तो इससे जुड़े सात में से छह विवादों का निपटारा हो गया था। 26 जून को कॉमर्स मिनिस्टर पीयूष गोयल ने कहा था कि इस साल के आखिरी तक सभी विवाद हल हो जाएंगे। अब जी20 की बैठक के मौके में यह भी हो गया है और पोल्ट्री मामले का एकमात्र बचा मसला भी सुलझ गया।

दोनों देशों के बीच रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचा कारोबार

अमेरिका और भारत के बीच व्यापारिक विवाद का निपटारा ऐसे समय में हुआ है जब दोनों देशों के बीच कारोबार रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंच गया है। अमेरिका भारत का सबसे बड़ा व्यापारिक सहयोगी बन गया है। वाणिज्य मंत्राल के आंकड़ों के अनुसार भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय कारोबार वित्त वर्ष 2022-23 में 7.65 फीसदी उछलकर 12855 करोड़ डॉलर पर पहुंच गया । वित्त वर्ष 2021-22 में यह आंकड़ा 11950 करोड़ डॉलर और 2020-21 में 8051 करोड़ डॉलर था।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com