Shaktikant Das
Shaktikant Das Raj Express

दुनिया का नया ग्रोथ इंजन बनने की दिशा में बढ़ रहा भारत, इसमें महंगाई प्रमुख बाधा : शक्तिकांत दास

आरबीआई गवर्नर ने कहा भारत तेजी से दुनिया का नया ग्रोथ ग्रोथ इंजन बनने की दिशा में बढ़ रहा है। इसमें महंगाई एक बड़ी बाधा है।हमें इससे सावधान रहने की जरूरत है।

हाईलाइट्स

  • आरबीआई गवर्नर दास ने महंगाई दर को लेकर कहा कि हमें इससे सावधान रहने की जरूरत है। उच्च महंगाई दर विकास के लिए सबसे बड़ा खतरा

  • यह एक उत्साहवर्धक तथ्य है कि सितंबर में देश के सर्विस सेक्टर ने 13 साल में सबसे अधिक ग्रोथ दर्ज की गई है

  • सितंबर में मैन्यूफैक्चरिंग ऑपरेशंस 5 महीने के निम्न स्तर पर रहे। मैन्यूफैक्चिंग पीएमआई सितंबर में 57.5 पर जा पहुंची। जबकि, अगस्त में 58.6 पर थी।

राज एक्सप्रेस। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने आज एमपीसी बैठक के बाद आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में बैठक में लिये गए फैसलों के बारे में जानकारी दी है। शक्तिकांत दास ने अपने संबोधन की शुरुआत कौटिल्य के जिक्र के साथ की। उन्होंने कहा कौटिल्य ने सैकड़ों साल पहले लिखी अपनी अर्थशास्त्र में कहा था कि स्थिरता राज्य की समृ्द्धि को समानता से बांटने और इसे संवर्धित करने के द्वार खोलती हैं। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि भारत तेजी से दुनिया का नया ग्रोथ ग्रोथ इंजन बनने की दिशा में आगे बढ़ रहा है। आरबीआई गवर्नर ने महंगाई दर के बढ़ने को एक खतरनाक संकेत बताते हुए आगाह किया कि हमें इससे सावधान रहने की जरूरत है। उच्च महंगाई दर विकास के लिए सबसे बड़ा खतरा है।

महंगाई पर काबू पाने के शुरू किए प्रयास

उन्होंने कहा कि महंगाई को नियंत्रित रखने के प्रयास किए जा रहे हैं। महंगाई के परिदृश्य पर खरीफ की बुआई में गिरावट, लोअर रिजर्व ऑयल लेवल्स, ग्लोबल फूड और एनर्जी कीमतों में अनिश्चितताओं के बादल छाए हुए हैं। शक्तिकांत दास ने कहा यह एक उत्साहवर्धक तथ्य है कि सितंबर में देश के सर्विस सेक्टर ने 13 साल में सबसे अधिक ग्रोथ दर्ज की है। मांग में मजबूती से नए व्यापार अवसरों में आई तेजी की वजह से सर्विस सेक्टर में तेजी आई है। उन्होंने कहा ओवरऑल बिजनेस सेंटीमेंट में सुधार होने से रोजगार अवसरों में इजाफा हुआ है। वहीं, नए ऑर्डर्स में कमी की वजह से सितंबर में मैन्यूफैक्चरिंग ऑपरेशंस 5 महीने के निम्न स्तर पर रहे हैं। मैन्यूफैक्चिंग पीएमआई सितंबर में गिरकर 57.5 पर जा पहुंची। जबकि, यह अगस्त में 58.6 पर थी।

गोल्ड लोन की लिमिट बढ़ाई गई

आरबीआई गवर्नर ने अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक्स के लिए गोल्ड लोन की लिमिट 21 हजार से बढ़ाकर 41 हजार रुपए कर दी है। शक्तिकांत दास ने कहा पेमेंट्स इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड स्कीम (पीआईडीएफ) को दो साल के लिए आगे बढ़ा दिया गया है। अब यह पीएम विश्वकर्मा स्कीम के लाभार्थियों को भी कवर करेगी। शक्तिकांत दास ने कहा कि आरबीआई एमपीसी बैठक में चालू वित्त वर्ष की रियल जीडीपी ग्रोथ का पूर्वानुमान 6.5 फीसदी बताया गया है। अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही के लिए जीडीपी ग्रोथ का पूर्वानुमान 6.6 फीसदी लगाया गया है।

दूसरी तिमाही के लिए 6.4% महंगाई का पूर्वानुमान

महंगाई का पूर्वानुमान चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के लिए 6.4 फीसदी, तीसरी तिमाही के लिए 5.6 फीसदी और चौथी तिमाही के लिए 5.2 फीसदी बताया गया है। वहीं, यह अगले वित्त वर्ष की पहली तिमाही के लिए 5.2 फीसदी है। शक्तिकांत दास ने आगे कहा कि कोर इन्फ्लेशन में और गिरावट की जरूरत है। उन्होंने कहा कि महंगाई खाद्य वस्तुओं की कीमतों में उछाल की वजह से है। आरबीआई गवर्नर ने बताया कि तेल के झटकों से होने वाली हानि से बचने के लिए मौद्रिक नीति सोच समझ कर तैयार तैयार करनी चाहिए। आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने बताया 29 सितंबर तक भारत का विदेशी मुद्रा भंडार 586.9 अरब डॉलर था। उन्होंने बताया आई-सीआरआर को चरणबद्ध तरीके से बंद किया जा रहा है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com