Nisatpura Police Station
Nisatpura Police StationSocial Media

Bhopal : पारदी डेरा की महिलाओं व पुरूषों ने पुलिस पर किया हमला, वाहनों में तोड़फोड़ कर आरोपी को छुड़ाया

पुलिस ने इस मामले में आठ लोगों को नामदर्ज व अन्य के खिलाफ बलवा, शासकीय कार्य में बाधा पहुंचने, शासकीय सेवक से मारपीट, तोड़फोड़ समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है।

भोपाल,मध्यप्रदेश । निशातपुरा थाना क्षेत्र में एक बार फिर पुलिस टीम पर हमला कर सरकारी वाहनों में तोड़फोड़ का मामला सामने आया है। घटना ऐहशान नगर के पारदी डेरा में उस वक्त अंजाम दी गई, जब पुलिस आर्म्स एक्ट के मामले में एक आरोपी के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट तामील करने पहुंची थी। तभी आरोपी के परिवार की महिलाओं व पुरूषों ने पुलिस को घेर लिया और आरोपी को पुलिस के चंगुल से छुड़ाकर फरार कर दिया। पुलिस ने इस मामले में आठ लोगों को नामदज व अन्य के खिलाफ बलवा, शासकीय कार्य में बाधा पहुंचाने, शासकीय सेवक से मारपीट, तोडफ़ोड़ समेत विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया है। पुलिस ने इस मामले में एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि अन्य की तलाश की जा रही है।

थाना प्रभारी रूपेश दुबे ने बताया कि पारदी डेरा ऐहसान नगर निवासी गोविंद पारधी का आ र्स एक्ट के मामले में न्यायालय से गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ था। रविवार को थाने की चार्ली 11 पर तैनात आरक्षक संजेश परमार व वसीम वारंट तामील करने पारदी डेरा पहुंचे थे। जहां पर चार्ली 11 पर तैनात आरक्षकों ने वारंटी गोविंद पारधी को हिरासत में ले लिया था। तभी उसके पिता किशन पारधी ने इंतफ़ाक़ , अंजू, पिंकी, मुस्कान उर्फ गोली, जुवराज बाई, गोविंद, सानिस व अन्य लोगों ने पुलिस आरक्षकों को घेर लिया। आरोपियों ने उन्हें गोविंद पारधी को छोड़ने को कहा और विवाद करने लगे। इसी बात की सूचना मिलने के बाद एसआई मोनिका गौर, महिला आरक्षक तारा, आरक्षक योगेन्द्र शर्मा भी मौके पर पहुंचे। जहां पर पुलिस टीम पर आरोपियों ने पथराव कर दिया और झूमाझटकी कर आरोपी गोविंद पारधी को छुड़ाकर फरार कर दिया।

इस दौरान आरोपियों ने पथराव कर पुलिस वाहन में भी तोड़फोड़ कर नुकसान पहुंचाया। इस हमले में आरक्षक संजेश परमार और योगेन्द्र शर्मा को चोट आई है। बताया जा रहा है कि आरोपियों ने वारंट गोविंद को छुडऩे के लिए एक प्राइवेट एनजीओ का हवाला देकर पुलिस को झूठे केस में फंसाने की धमकी दी।

पुलिस को दी झूठे मुकदमे में फंसाने की धमकी

आरोपियों ने पुलिस को धमकाया कि अगर गोविंद को गिरफ्तार किया तो गांधी नगर जैसा केस कर तुम पुलिसवालों को फंसा देंगे। हालांकि पुलिस ने आरोपी गोविंद के पिता किशन पारदी को इस मामले में गिरफ्तार कर लिया है। जबकि अन्य आरोपी घटना के बाद से फ रार हैं। पुलिस ने घायल आरक्षक संजेश परमारी की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com