महेश भट्ट ने "7:40 की लेडीज स्पेशल" का पोस्टर किया लॉन्च
महेश भट्ट ने "7:40 की लेडीज स्पेशल" का पोस्टर किया लॉन्चRaj Express

महेश भट्ट ने "7:40 की लेडीज स्पेशल" का पोस्टर किया लॉन्च

डायरेक्टर महेश भट्ट ने प्ले "7:40 की लेडीज़ स्पेशल" का पोस्टर लॉन्च मीडिया के बीच किया। यह नाटक एक ट्रांसजेंडर पूजा शर्मा के जीवन की कहानी पर आधारित है।

हाइलाइट्स :

  • नाटक एक ट्रांसजेंडर पूजा शर्मा के जीवन की कहानी पर आधारित है।

  • पूजा शर्मा के जीवन की कहानी काफी प्रेरणादायक है।

  • इस नाटक में ट्रांसजेंडर व्यक्तियों की अनकही चुनौतियों पर चर्चा की गई है।

राज एक्सप्रेस। डायरेक्टर महेश भट्ट ने प्ले "7:40 की लेडीज़ स्पेशल" का पोस्टर लॉन्च मीडिया के बीच किया। यह नाटक एक ट्रांसजेंडर पूजा शर्मा के जीवन की कहानी पर आधारित है, जिन्हें जूनियर रेखा के नाम से भी जाना जाता है और जो अपने अद्भुत नृत्य कौशल के लिए लोकप्रिय हैं। महेश भट्ट ने ड्रामा टॉकीज के साथ, महान स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह को श्रद्धांजलि के रूप में महान भगत सिंह का 116 वां जन्मदिन भी मनाया। इस अवसर पर श्री किरण जीत सिंह (भगत सिंह के भतीजे) सम्मानित अतिथि थे।

मीडिया से बात करते हुए महेश भट्ट ने कहा, "नाटक 7:40 की लेडीज स्पेशल मेरे दिल के काफी करीब है। जब निर्माता राजीव मिश्रा ने कहानी सुनाई तो मैं काफी प्रभावित हुआ और इस प्रोजेक्ट से जुड़ने के लिए तैयार हो गया। आने वाली पीढ़ियों के लिए निश्चित रूप से यह ड्रामा एक मील का पत्थर साबित होगा। महान स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह के 116वें जन्मदिन पर, हम वास्तविक नायक और देश के सबसे महान स्वतंत्रता सेनानियों को एक छोटी सी श्रद्धांजलि भी दे रहे हैं।"

इस कहानी के पीछे की प्रेरणा के बारे में पूछे जाने पर निर्माता राजीव मिश्रा ने कहा, “पूजा शर्मा के जीवन की कहानी काफी प्रेरणादायक है। जब मुझे उनके साथ घटी जिंदगी बदल देने वाली घटना के बारे में पता चला तो इसने मुझे अंदर से झकझोर कर रख दिया। मैं उनके कौशल और प्रतिभा का सम्मान करता हूं। इस नाटक में ट्रांसजेंडर व्यक्तियों की अनकही चुनौतियों पर चर्चा की गई है, साथ ही यह भी बताया गया है कि कैसे समाज किसी व्यक्ति की पहचान को उसके लिंग तक सीमित कर देता है।

यह नाटक ट्रांसजेंडर लोगों के अंजान संघर्षों के बारे में बात करता है और कैसे समाज किसी व्यक्ति की पहचान को केवल उनके लिंग तक सीमित कर देता है। यह आज की पूजा के ग्लैमर और लोकप्रियता के पीछे के काले सच पर प्रकाश डालता है, क्योंकि उसे अभी भी घर जैसी बुनियादी मानवीय जरूरतों से वंचित रखा गया है। इस नाटक का उद्देश्य समाज को एलजीबीटीक्यू समुदाय के संघर्षों से अवगत कराना और मानसिकता को बदलना है ताकि हम सभी लिंगों के लिए एक सुरक्षित और निष्पक्ष स्थान बना सकें।

यह नाटक विरेन बसोया द्वारा निर्देशित, विरेन बसोया और सपना बसोया द्वारा लिखित एवं राजीव मिश्रा द्वारा निर्मित है। यह नाटक 28 अक्टूबर, 2023 को मुंबई के मुक्ति ऑडिटोरियम में प्रदर्शित किया जाएगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com