CGPSC पर उठे सवाल पर CM बघेल का बयान
CGPSC पर उठे सवाल पर CM बघेल का बयानSudha Choubey - RE

CGPSC पर उठे सवाल पर CM बघेल का बयान- 'ब्यूरोक्रेट्स या राजनेता का बेटा होना कोई अपराध नहीं'

छत्तीसगढ़ में PSC 2021 की परीक्षा में हुए चयन को लेकर बीजेपी सवाल खड़े कर रही है और रिजल्ट रद्द करने की मांग हो रही है। अब इसपर सीएम बघेल ने बयान जारी किया है।

रायपुर, छत्तीसगढ़। छत्तीसगढ़ में PSC 2021 की परीक्षा में हुए चयन को लेकर बीजेपी सवाल खड़े कर रही है और रिजल्ट रद्द करने की मांग हो रही है। इसी बीच इस परीक्षा को लेकर उठे सवाल पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) का बड़ा बयान सामने आया है।

भूपेश बघेल ने कही यह बात:

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बयान जारी करते हुए कहा कि, "यदि PSC में राजनेताओं के बच्चे और प्रशासनिक सेवा से आने वाले लोगों के बच्चे चयनित हो रहे हैं तो इस पर भाजपा माहौल क्यों ख़राब कर रही है? यदि भाजपा के पास कोई तथ्य हैं तो प्रस्तुत करें। मैं बहुत से भाजपा नेताओं के बच्चे भी बता सकता हूँ, जो कहीं चयनित हुए हैं, लेकिन ऐसा कहकर मैं बच्चों का मन ख़राब नहीं करूँगा।"

सीएम बघेल ने कहा कि, "प्रदेश में सिलेक्ट हुए कैंडिडेट्स में से किसी के ब्यूरोक्रेट्स और राजनीतिक परिवार का होना कोई अपराध नहीं है। पहले बीजेपी के समय में भी ब्यूरोक्रेट्स और राजनेताओं के बच्चों का सिलेक्शन हुआ है और मेरे पास पहले भी सिलेक्ट हुए लोगों के नाम हैं, लेकिन उसे उजागर करूंगा तो उन बच्चों का मन खराब होगा।"

उन्होंने कहा कि, "सोशल मीडिया में जो बातें उठायी जा रही है, वो दुर्भाग्यजनक है। अगर बीजेपी के पास तथ्य हैं तो उसे सामने लाये, चयन में कोई गड़बड़ी है तो जरूर दीजिए, इसकी जांच कराएंगे। बीजेपी प्रदेश का माहौल खराब कर रही है।"

वहीं, मुख्यमंत्री निवास में मंगलवार को हुई आपात बैठक को लेकर सियासी गलियारों में कई तरह की चर्चाएं चल रही है। इसपर सीएम भूपेश बघेल ने इन सभी चर्चाओं को खारिज करते हुए कहा कि बाहर कई तरह की चर्चाएं थी। लेकिन बैठक का एजेंडा पहले से तय था। उन्होंने कहा कि बैठक को लेकर गजब की कहानी बन गयी, जितने मुंह उतनी बातें इस बैठक को लेकर कही गयी। सीएम ने बताया कि, बैठक में आगामी चुनाव और कार्यक्रमों को लेकर हुई थी। 21 मई को राजीव गांधी की पुण्यतिथि पर बड़ा कार्यक्रम होना है। उस की रूपरेखा तय हुई है।

रामायण महोत्सव पर बोले सीएम बघेल:

छत्तीसगढ़ में पहली बार राष्ट्रीय रामायण महोत्सव पर सीएम बघेल ने कहा कि, रायगढ़ में एक, दो और तीन जून को इसका भव्य आयोजन होगा। इसके माध्यम से लोक संस्कृति और कला को बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि, पहले छत्तीसगढ़ को खदानों और नक्सलियों के नाम से जाना जाता था, लेकिन अब इतनी चीज़े है की लोग दांतों तले उंगलिया दबा लेते हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com