Mahadev Satta App पर बोले केंद्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखर
Mahadev Satta App पर बोले केंद्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखरRE-Bhopal

Mahadev Satta App पर बघेल सरकार ने किसे पत्र लिखा, यह कोई नहीं जानता - केंद्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखर

Rajiv Chandrashekhar On Mahadev Betting App Case : छत्तीसगढ़ में महादेव सट्टा ऐप पर भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने है। जानकारी के अनुसार कांग्रेस महादेव सट्टा ऐप मामले में निर्वाचन आयोग भी जा सकती है।

हाइलाइट्स :

  • Mahadev Satta App पर जारी है राजनीति।

  • राजीव चन्द्रशेखर ने कहा, ED अनुरोध पर ब्लॉक किये ऐप।

  • महादेव ऐप पर केंद्र ने लगाया है प्रतिबन्ध।

रायपुर, छत्तीसगढ़। पुलिस और छत्तीसगढ़ सरकार ने महादेव सट्टा ऐप पर पत्र तो लिखा लेकिन किसे लिखा, यह कोई नहीं जानता। यह बात केंद्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखर ने मध्यप्रदेश में मीडिया से चर्चा के दौरान कही है। इस समय छत्तीसगढ़ में महादेव सट्टा ऐप पर भाजपा और कांग्रेस आमने-सामने है। जानकारी के अनुसार कांग्रेस महादेव सट्टा ऐप मामले में निर्वाचन आयोग भी जा सकती है।

छत्तीसगढ़ सरकार को जवाब देना होगा :

महादेव ऐप मामले पर केंद्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखर ने कहा, छत्तीसगढ़ पुलिस और छत्तीसगढ़ सरकार ने डेढ़ साल पहले जांच शुरू की थी लेकिन इस संबंध में कुछ नहीं किया। उन्होंने पत्र तो लिखा लेकिन किसे लिखा, यह कोई नहीं जानता। वे सिर्फ इस जांच को बढ़ाना चाहते थे ताकि वे ऐप से पैसे ले सकें। उन्हें ऐप से 508 करोड़ रुपए मिले हैं और अब उन्हें जवाब देना होगा...ED ने रविवार को पहली बार हमसे इस ऐप को ब्लॉक करने का अनुरोध किया और हमने तुरंत ऐसे 22 ऐप ब्लॉक कर दिए।

केंद्र सरकार ने ED के अनुरोध पर महादेव बेटिंग ऐप 21 बेटिंग ऐप्स पर कार्रवाई करते हुए प्रतिबंध लगा दिया है। इसके आदेश बीती देर रात जारी किये गए है। बता दें, ED महादेव ऐप के खिलाफ अवैध सट्टेबाज़ी सिंडिकेट के तहत जांच कर रही है। छत्तीसगढ़ में चर्चित महादेव बेटिंग ऐप में सीएम भूपेश बघेल का नाम भी जोड़ा गया था। पूरी खबर पढ़ने के लिए नीचे दी गई लिंक पर क्लिक करें।

Mahadev Satta App पर बोले केंद्रीय मंत्री राजीव चन्द्रशेखर
Mahadev Satta App Case : केंद्र सरकार ने महादेव बैटिंग ऐप समेत 21 सट्टा ऐप पर लगाया बैन, ED कर रही जांच

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com