तमिलनाडु में डीजीपी रहे ब्रज किशोर कांग्रेस में हुए शामिल

कांग्रेस लगातार बेरोजगारी के मुद्दे को उठा रही है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्री मंडल का कोई सदस्य इस बारे में कुछ बोलने को तैयार नहीं है।
तमिलनाडु में डीजीपी रहे ब्रज किशोर कांग्रेस में हुए शामिल
तमिलनाडु में डीजीपी रहे ब्रज किशोर कांग्रेस में हुए शामिलRaj Expres
Guest Author:

हाइलाइट्स :

  • अखिलेश प्रसाद सिंह ने ब्रज किशोर रवि को पार्टी मुख्यालय में कांग्रेस में शामिल कराया।

  • ब्रज किशोर रवि को उनके काम के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई पदक मिले हैं।

  • ब्रज किशोर रवि की विचारधारा हमेशा से कांग्रेस पार्टी की रही है।

नई दिल्ली। बिहार मूल के तमिलनाडु में पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) रहे ब्रज किशोर रवि ने नौकरी छोड़कर  कांग्रेस का दामन थाम लिया है। कांग्रेस कार्यसमिति एवं राज्य सभा सदस्य नासिर हुसैन और बिहार प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष एवं सांसद अखिलेश प्रसाद सिंह ने ब्रज किशोर रवि को गुरुवार को यहां पार्टी मुख्यालय में कांग्रेस में शामिल कराया।

नासिर हुसैन ने इस दौरान आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि ब्रज किशोर रवि बिहार के मूल निवासी हैं और उनके पिता तुलमोहन राम कांग्रेस से लोकसभा सांसद एव विधायक थे। ब्रज किशोर रवि को उनके काम के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कई पदक मिले हैं। अपने फाउंडेशन के जरिए गरीब, पिछड़ों तथा आदिवासियों के लिए काम कर रहे ब्रज किशोर रवि नौकरी से इस्तीफा देकर बिहार और देश की जनता की सेवा के लिए कांग्रेस में शामिल हुए हैं।

बेरोजगारी का मुद्दा उठाते हुए उन्होंने कहा कि देश में बेरोजगारी दर लगातार बढ़ रही है जबकि केंद्र और राज्य स्तर पर लाखों पद खाली हैं लेकिन भारतीय जनता पार्टी सरकार भर्ती नहीं कर रही है। कांग्रेस लगातार बेरोजगारी के मुद्दे को उठा रही है लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके मंत्री मंडल का कोई सदस्य इस बारे में कुछ बोलने को तैयार नहीं है।

ब्रज किशोर रवि का कांग्रेस पार्ट में स्वागत करते हुए बिहार कांग्रेस अध्यक्ष अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि ब्रज किशोर रवि की विचारधारा हमेशा से कांग्रेस पार्टी की रही है। भारत जोड़ो यात्रा के बाद से वह नौकरी छोड़ना चाहते थे और कांग्रेस के संपर्क में थे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com