दक्षिण अफ्रीका ने जी-20 में शामिल होने पर जताई खुशी
दक्षिण अफ्रीका ने जी-20 में शामिल होने पर जताई खुशीRaj Express

G20 Summit : दक्षिण अफ्रीका ने जी-20 में शामिल होने पर जताई खुशी

भारत की अध्यक्षता के दौरान इस अंतरराष्ट्रीय संगठन ने जो कदम उठाए हैं दुनिया को सही दिशा देनें में उसकी अहम भूमिका होगी।

हाइलाइट्स :

  • अफ्रीकी महाद्वीप को ऐसे मंचों और प्रक्रियाओं में शामिल करना एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम है।

  • अफ्रीकी संघ के इस मंच में शामिल होने से अफ्रीका और विश्व के दक्षिण हिस्से की आवाज बढ़ेगी।

  • अफ्रीका वैश्विक अर्थव्यवस्था का एक अभिन्न अंग है।

  • अफ्रीकी महाद्वीप भी विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति कर रहा है।

नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीका ने अफ्रीकी यूनियन के जी-20 देशों में शामिल होने पर खुशी जताते हुए कहा है कि अब तक दुनिया के बड़े हिस्से और बड़ी आबादी को इस तरह के अंतरराष्ट्रीय महत्वपूर्ण मंचों से दूर रखा गया है लेकिन भारत की अध्यक्षता के दौरान इस अंतरराष्ट्रीय संगठन ने जो कदम उठाए हैं दुनिया को सही दिशा देनें में उसकी अहम भूमिका होगी।

अफ्रीकी संघ के जी-20 में शामिल होने पर दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा के प्रवक्ता विंसेंट मैग्वेन्या ने कहा , “अफ्रीकी महाद्वीप को ऐसे मंचों और प्रक्रियाओं में शामिल करना एक महत्वपूर्ण घटनाक्रम है।" यह सुधारों की दिशा में एक महत्वपूर्ण संकेत है।

हम इसे एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में देखते हैं और हमें लगता है कि जो लोग संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद और वैश्विक तथा बहुपक्षीय वित्तीय संस्थानों में सुधार देखना चाहते हैं उनके लिए उस दिशा में यह सकारात्मक संकेत है। दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामफोसा सम्मेलन में हिस्सा ले रहे हैं।

मैग्वेन्या ने कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार ने जिस तरह से जी-20 देशों की अध्यक्षता करते हुए अपने नेतृत्व क्षमता का प्रदर्शन किया उससे हम बहुत खुश है।"

नरेन्द्र मोदी ने इस सम्मेलन में अफ्रीकी देशों के संगठन को शामिल करने की कवायद कर धरती के दक्षिण हिस्से के कई छोटे और विकासशील अर्थव्यवस्था वाले देशों को आवाज देने का काम किया है जिन्हें अक्सर इस तरह के मंचों से बाहर रखा गया है।

उन्होंने कहा “अफ्रीकी संघ के इस मंच में शामिल होने से अफ्रीका और विश्व के दक्षिण हिस्से की आवाज बढ़ेगी। अफ्रीका वैश्विक अर्थव्यवस्था का एक अभिन्न अंग है क्योंकि यह महाद्वीप दुनिया को बड़े स्तर पर संसाधन उपलब्ध कराता है। अफ्रीकी महाद्वीप भी विभिन्न क्षेत्रों में प्रगति कर रहा है हालांकि लगभग यह पूरा महाद्वीप अब भी सुरक्षा चुनौतियों का सामना कर रहा है और एक महाद्वीप के रूप में इसका समाधान आवश्यक है।”

प्रवक्ता ने कहा, “यह बहुत महत्वपूर्ण मंच है और इसमें अहम बात यह है कि हमारे संगठन को इस मंच का सदसय बनाया गया है। करीब डेढ़ अरब की आबादी वाले विशाल अफ्रीकी महाद्वीप को इस महत्वपूर्ण अंतरराष्ट्रीय आर्थिक सहयोग मंच के साथ जोड़ने का बहुत बड़ा काम हुआ है। अब तक इस महत्वपूर्ण मंच से महाद्वीप के इतने लोगों को बाहर रखा गया था।”

जी-20 की चुनौतियों को लेकर पूछे गये सवालों पर उन्होंने कहा कि चुनौतियां हैं और उनमें से हरेक का समाधान नहीं किया जा सकता। इस मंच में सुधारों की बात होती रही है और अफ्रीकी संगठन वैश्विक संगठनों में सुधार की बात कर अपने हितों को साधने का प्रयास करता रहेगा।

यह भी देखें :

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com