संसद के विशेष सत्र 2023 की शुरुआत से पहले PM मोदी की टिप्‍पणी
संसद के विशेष सत्र 2023 की शुरुआत से पहले PM मोदी की टिप्‍पणी Raj Express

संसद के विशेष सत्र 2023 की शुरुआत से पहले PM नरेंद्र मोदी की टिप्‍पणी, कहीं ये बड़ी बातें...

संसद के विशेष सत्र 2023 की शुरुआत से पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा- जी-20 में भारत इस बात के लिए हमेशा गर्व करेगा कि हम ग्लोबल साउथ की आवाज बनें।

दिल्‍ली, भारत। संसद का विशेष सत्र आज 18 सितंबर से शुरू हो रहा है, जो 22 सितंबर तक चलेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी संसद पहुंच और यहां उन्‍होंने संसद के विशेष सत्र से पहले मीडिया से बात कर अपनी टिप्‍पणी दी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद के विशेष सत्र 2023 की शुरुआत से पहले कहा- मून मिशन की सफलता चंद्रयान-3, हमारा तिरंगा फहरा रहा है। शिव शक्ति प्वाइंट नई प्रेरणा का केंद्र बना है। तिरंगा प्वाइंट हमें गर्व से भर रहा है। G20 में भारत हमेशा इस बात के लिए गर्व करेगा कि हम Global South की आवाज बनें। अफ्रीकन यूनियन को स्थायी सदस्यता और सर्वसम्मति से G20 का डिक्लेरेशन, ये सारी बातें भारत के उज्ज्वल भविष्य का संकेत दे रही हैं। G20 की अभूतपूर्व सफलता, 60 से अधिक स्थानों पर विश्व भर के नेताओं का स्वागत, मंथन और ट्रू स्पिरिट में fedral structure का एक जीवंत अनुभव भारत की विविधता, भारत की विशेषता के साथ G20 अपने आप में एक त्योहार बन गया।

कल यशोभूमि (Internation convention centre) राष्ट्र को समर्पित हुआ। कल ही विश्वकर्मा जयंती के अवसर पर विश्वकर्मा समुदाय को ट्रेनिंग, आधुनिक टूल, आर्थिक प्रबंधन के लिए पीएम विश्वकर्मा योजना शुरू की गई। चंद्रयान मिशन की सफलता जैसी उपलब्धियों को आधुनिकता, विज्ञान और प्रौद्योगिकी से जोड़कर देखा जाता है। जब ऐसी कोई संभावना दुनिया के सामने आती है, तो अपने साथ अनेक संभावनाएं, अनेक अवसर लेकर आती है। G20 की अभूतपूर्व सफलता, 60 से अधिक स्थानों पर दुनिया भर के नेताओं का स्वागत, सच्ची भावना से संघीय ढांचे के विचार और जीवंत अनुभव ने G20 को अपने आप में एक उत्सव बना दिया। भारत को G20 में ग्लोबल साउथ की आवाज़ बनने पर हमेशा गर्व रहेगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

  • इस समय सारे देश में उमंग का माहौल और एक नया आत्मविश्वास हम सभी महसूस कर रहे हैं। उसी समय संसद का ये सत्र हो रहा है। ये सत्र छोटा है, लेकिन समय के हिसाब ये बहुत बड़ा है। ऐतिहासिक निर्णयों के ये सत्र है। इस सत्र की एक विशेषता ये है कि 75 साल की यात्रा अब नए मुकाम से शुरू हो रही है।

  • नए स्थान पर उस यात्रा को आगे बढ़ाते समय, नए संकल्प, नई ऊर्जा और नए विश्वास से काम करना है। 2047 तक देश को विकसित बनाना है। इसके लिए जितने भी निर्णय होने वाले हैं, वो सभी इस नए संसद भवन में होंगे। मैं सभी आदरणीय सांसदों से आग्रह करता हूं कि छोटा सत्र है। वो यहां उमंग और उत्साह के साथ अपना ज्यादा से ज्यादा समय यहां दें।

  • कल गणेश चतुर्थी का पावन पर्व है। गणेश जी विघ्नहर्ता माने जाते हैं। अब भारत की विकास यात्रा में कोई विघ्न नहीं रहेगा, अब निर्विघ्न रूप से सारे संकल्प और सपनें भारत परिपूर्ण करेगा। इसलिए गणेश चतुर्थी के दिन ये नव प्रस्थान नए भारत के सारे सपनों को चरितार्थ करने वाला बनेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com