1 अप्रैल से महंगी हुई ये जरूरी दवाएं, पेरासिटामोल और एंटीबायोटिक है शामिल
1 अप्रैल से महंगी हुई ये जरूरी दवाएं, पेरासिटामोल और एंटीबायोटिक है शामिलRE

पेरासिटामोल और एंटीबायोटिक सहित कुल 800 जरूरी दवाएं हुई महंगी

वित्त वर्ष 2024-25 में कई चीजों के दामों में बढ़ोतरी हुई है। इनमें एंटीबायोटिक और पेरासिटामोल सहित कई जरूरी दवाएं भी शामिल है।

हाइलाइट्स:

  • राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण ने दी जानकारी।

  • पेरासिटामोल, एनीमिया और एंटीबायोटिक दवाओं की कीमते बढ़ी।

दिल्ली। 1 अप्रैल से शुरू हुए वित्त वर्ष 2024-25 में कई चीजों के दामों में बढ़ोतरी हुई है। इनमें एंटीबायोटिक और पेनकिलर सहित कई जरूरी दवाएं भी शामिल है। राष्ट्रीय औषधि मूल्य निर्धारण प्राधिकरण (National Pharmaceutical Pricing Authority) ने इस बात की जानकारी दी है। कुल 800 दवाओं के दामों में बढ़ोतरी हुई। 

इन जरूरी दवाओं के दामों में हुई बढ़ोतरी

पेरासिटामोल- सबसे पहले 1 अप्रैल से पेरासिटामोल के दामों में बढ़ोतरी होने वाली है। बुखार और बदन दर्द के लिए आमतौर पर पेरासिटामोल दवा का सेवन किया जाता है। इसके अलावा मॉर्फिन, डिक्लोफेनाक, इबुप्रोफेन और मेफेनैमिक एसिड दवाओं के दामों में भी बढ़ोतरी हुई है। इन सभी दवाओं का उपयोग पेन किलर के तौर पर किया जाता है। 

टीबी विरोधी दवा (Anti-TB Medicine)- टीबी के इलाज में काम आने वाली कई दवाओं के दाम में भी वित्त वर्ष 2024-25 में बढ़ोतरी हुई है। जिन दवाओं के दाम बढ़े हैं, वो है- एमिकासिन, बेडाक्विलिन, क्लैरीथ्रोमाइसिन और एंटीकॉन्वेलेंट्स जैसे क्लोबज़म, डायजेपाम, लॉराज़ेपम।

जहर के एंटीडोट- जहर के प्रतिकारक के रूप में इस्तेमाल होने वाली दवाओं के दामों में भी 1 अप्रैल से उछाल आया है। इनमें सांप के जहर के प्रतिकारक के रूप में इस्तेमाल की जाने वाली दवा के दाम बढ़े हैं। इसके अलावा सक्रिय चारकोल, डी-पेनिसिलिन, और नालोक्सोन की कीमत में भी बढ़ोतरी आई है।

एंटीबायोटिक्स (Antibiotics)-  बैक्टीरियल इंफेक्शन से होने वाली बीमारियों के इलाज के लिए प्रयोग की जाने वाली एंटीबायोटिक दवाओं के कीमत भी बढ़ी है। इन दवाओं में एमोक्सिसिलिन, एम्पीसिलीन, बेन्ज़िलपेनिसिलिन, सेफैड्रोक्सिल, सेफ़ाज़ोलिन, सेफ्ट्रिएक्सोन शामिल है।

एनीमिया की दवाएं-  खून की कमी यानी एनीमिया से ग्रसित लोगों को दी जाने कुछ दवाओं के दाम भी बढ़े हैं। इन दवाओं में फोलिक एसिड, आयरन सुक्रोज, हाइड्रोक्सी कोबालामिन जैसे दवाओं के नाम शामिल है।

एंटी फंगल दवाएं (Antifungal Medicines)-  फंगल इंफेक्शन के इलाज में काम आने वाली इन दवाओं की कीमत भी 1 अप्रैल से बढ़ी है- क्लोट्रिमेज़ोल, फ्लुकोनाज़ोल, मुपिरोसिन, निस्टैटिन, टेरबिनाफाइन।

इसके अलावा कोरोना के इलाज में इस्तेमाल होने वाली कुछ दवाओं के दाम भी 1 अप्रैल से बढ़े हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com