रोहतक में बाबा मस्तनाथ मठ में CM योगी
रोहतक में बाबा मस्तनाथ मठ में CM योगी Raj Express

रोहतक में बाबा मस्तनाथ मठ में CM योगी ने रामदेव व मोहन भागवत के बारे में कहीं ये बड़ी बात...

हरियाणा के रोहतक में बाबा मस्तनाथ मठ में ब्रह्मलीन महंत चांदनाथ योगी की स्मृति में शंखढाल व मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम में CM योगी, मोहन भागवत, रामदेव समेत अनेक दिग्गज नेताओं ने हिस्सा लिया।

हाइलाइट्स :

  • रोहतक में बाबा मस्तनाथ मठ पहुंचे CM योगी आदित्यनाथ

  • बाबा रामदेव ने योग और आयुर्वेद को नई पहचान दिलाने का काम किया: CM योगी

  • मोहन भागवत ने सनातन संस्कृति को मजबूत किया है: CM योगी

हरियाणा, भारत। हरियाणा के रोहतक में बाबा मस्तनाथ मठ में ब्रह्मलीन महंत चांदनाथ योगी की स्मृति में शंखढाल व मूर्ति प्राण-प्रतिष्ठा कार्यक्रम हो रहा है। ऐसे में आज गुरुवार को उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ, आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत, योगगुरू स्वामी रामदेव समेत अनेक दिग्गज नेताओं ने इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया। इस दौरान हरियाणा के पूर्व CM भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उनके सांसद बेटे दीपेंद्र हुड्‌डा भी पहुंचे।

बाबा रामदेव ने योग और आयुर्वेद को नई पहचान दिलाने का काम किया :

बाबा मस्तनाथ मठ में ब्रह्मलीन महंत चांदनाथ योगी की स्मृति में शंखढाल व मूर्ति स्थापना एवं प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम को UP के CM योगी आदित्यनाथ ने संबोधित किया और सत्य सनातन धर्म की जयकारे के साथ अपने संबोधन को शुरू करते हुए कहा- बाबा रामदेव ने योग और आयुर्वेद को नई पहचान दिलाने का काम किया। चांदनाथ योगी की समाधि और मंदिर के उद्घाटन समारोह में देश के महान साधु संतों ने शिरकत की है, जो गौरव की अनुभूति करवा रही है।

नाथ संप्रदाय सनातन धर्म को मजबूती के साथ आगे बढ़ा रहे हैं। आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने सनातन संस्कृति को मजबूत किया है। सभी को एकसाथ जोड़ रहे हैं। सीएम योगी ने आगे कहा लोगों के लिए जो असंभव था, उसे भारत ने संभव कर दिया। विश्व शांति की गारंटी सनातन हो सकता, भारत हो सकता है। दुनिया के लोग आशा भरी नजरों से देख रहे हैं। पीएम नरेन्द्र मोदी की तरफ देख रही है।

उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

आगे उन्‍होंने यह भी कहा कि, सनातन को दुनिया में ले जाने के अभियान को आज का कार्यक्रम महत्वपूर्ण है। महंत चांद नाथ के संकल्प को बालकनाथ योगी पूरा कर रहे हैं। सनातन संस्कृति चुनौतियों से भागने नहीं बल्कि मुकाबला करने के लिए ताकत देती है। एक भारत श्रेष्ठ भारत बन रहा है, जो संतों के तप और चेतना का फल है। पूर्व, पश्चिम,उत्तर दक्षिण से साधु संत यहां पहुंचे हैं। यही सनातन संस्कृति है। सनातन धर्म में सभी जाति, धर्म और संस्कृति समायोजित है।

बाबा रामदेव का संबोधन :

CM योगी के अलावा योग गुरु बाबा रामदेव ने भी कार्यक्रम को संबो‍धित कर कहा, नाथ संप्रदाय की परंपरा से ही योग संभव है। हमने तो नाथ संप्रदाय से ही सबकुछ सीखा है। हठ योग भी नाथ संप्रदाय में ही होता है। योगी आदित्यनाथ ने यूपी में करके भी दिखाया है। बाबा मस्तनाथ मठ का नाथ संप्रदाय को आगे बढ़ाने में बड़ा योगदान रहा है। बाबा मस्तनाथ मठ में चांदनाथ योगी की समाधि स्थल नहीं बल्कि सनातन को गौरव है। सनातन में सभी जातियों का समावेश है। आज यहां साधु संत का समागम है, इसे महाकुंभ से कम नहीं कहा जा सकता। यहां देश के महान संत समाज के गौरव मौजूद हैं। आरएसएस के सरसंघचालक मोहन भागवत ने सनातन धर्म और संस्कृति को आगे बढ़ाने का काम किया। भारत ऐसा देश, जिसने युद्ध नहीं बल्कि योग दिया है। भारत 2047 को महाशक्ति बनाने का इंतजार नहीं करना 2035 में आर्थिक और सामाजिक महाशक्ति संकल्प से बनाया जा सकता है। विश्व अब वहां चलेगा, जहां भारत चलेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com