बिजली कर्मचारी जाएंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर
बिजली कर्मचारी जाएंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल परRE-Bhopal

मध्यप्रदेश में 70 हजार बिजली कर्मचारी जाएंगे अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

Electricity Workers Indefinite Strike: गांधी जयंती के अवसर पर भोपाल मे बिजली कर्मचारी शांतिपूर्ण तरीके से उपवास कर मौन धारण एवं भजन कीर्तन कर सरकार का ध्यानाकर्षण भी करेंगे।

हाइलाइट्स :

  • आउटसोर्स वेतन वृद्धि, वेतन विसंगति समेत कई मांगों को लेकर हड़ताल।

  • बिजली विभाग के तीन संगठन मिलकर रहे हड़ताल।

  • 6 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करने की चेतावनी।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में चुनाव से पहले हड़ताल का दौर जारी है। अब मध्यप्रदेश के 70 हजार बिजली कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है। ये कर्मचारी पेंशन की सुनिश्चित व्यवस्था, आउटसोर्स वेतन वृद्धि, वेतन विसंगति समेत कई मांगों को लेकर हड़ताल करेंगे।

मध्यप्रदेश मे बिजली कर्मचारी सोमवार को भोपाल से हड़ताल की शुरुआत करेंगे। इस हड़ताल में बिजली विभाग के तीन संगठन मध्यप्रदेश विद्युत मंडल अभियंता संघ, यूनाइटेड फोरम, पांवर इंजीनियर एम्पलाईज एसोसिएशन शामिल हैं। गांधी जयंती के अवसर पर भोपाल मे बिजली कर्मचारी शांतिपूर्ण तरीके से उपवास कर मौन धारण एवं भजन कीर्तन कर सरकार का ध्यानाकर्षण भी करेंगे।

बिजली कर्मचारियों ने 6 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन कार्य बहिष्कार करने की चेतावनी दी है। मध्यप्रदेश के लगभग 70 हजार बिजली कर्मचारी अपनी मांगों को लेकर संर्घष कर रहे है, उनका कहना है कि अब तक न उनकी मांगे पूरी हुई है और न ही सुनवाई हुई है।

क्या है इनकी मांगे:

  • ज्वाइंट वेंचर एवं टीबीसीबी वापस लिया जाए।

  • पेंशन की सुनिश्चित व्यवस्था, डी. आर. और चतुर्थ वेतनमान के आदेश।

  • सातवें वेतनमान में 3 स्टार मैट्रिक्स विलुप्त किया जाए।

  • संविदा का नियमितीकरण एवं सुधार उपरांत वर्ष 2023 संविदा नीति लागू करें।

  • आउटसोर्स की वेतन वृद्धि के साथ 20 लाख का दुर्घटना बीमा एवं ₹3000 जोखिम भत्ता सरकार वहन करे।

  • कर्मचारियों की वेतन विसंगति दूर कर मूल वेतन 25,300 रूपये से अधिक किया जाए।

  • ट्रांसमिशन मे आईटीआई वाले कर्मचारियों को क्लास चार की जगह क्लास तीन में रखा जाए।

  • सभी वर्गों की वेतन विसंगतियां, अनुकंपा नियुक्ति में मध्य प्रदेश शासन

  • अनुसार नीतियों में सुधार के साथ ही गृह जिले में स्थानांतरण किया जाए।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com