बालाघाट में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान
बालाघाट में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान Sudha Choubey - RE

बालाघाट: CM शिवराज ने 'लाड़ली बहना सम्मेलन' में किया 208 करोड़ की लागत के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज बालाघाट में आयोजित 'लाड़ली बहना सम्मेलन' में लगभग 208 करोड़ की लागत के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

बालाघाट, मध्य प्रदेश। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलन में शामिल होने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंगलवार को मलाजखंड पहुंचे। जहां उन्होंने आयोजित 'लाड़ली बहना सम्मेलन' में लगभग ₹208 करोड़ की लागत के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास कर क्षेत्रवासियों को विभिन्न सौगातें दीं।

शिवराज सिंह चौहान ने कही यह बात:

इस मौके पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, "मुख्यमंत्री बनते ही मैंने लाड़ली लक्ष्मी योजना बनाई। हमने तय किया कि, बेटी अगर पैदा होगी तो लखपति बनकर पैदा होगी। मुझे यह कहते हुए खुशी है कि, मध्यप्रदेश की धरती पर आज 45 लाख से अधिक लाड़ली लक्ष्मी बेटियां हैं।"

मुख्यमंत्री ने कहा कि, "हमने तय किया कि, बहनों के नाम संपत्ति की रजिस्ट्री कराने पर केवल 1% स्टाम्प ड्यूटी लगेगी। मुझे यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मध्यप्रदेश में इस समय 45% संपत्ति की रजिस्ट्री बहनों के नाम पर हो रही है।"

शिवराज सिंह चौहान ने इस दौरान महिला सशक्तीकरण पर जोर देते हुए लाड़ली बहना योजना को क्रांतिकारी योजना बताया। मेरा मकसद, महिलाओं को लखपति क्लब में लाना है। प्रदेशभर में एक करोड़ 25 लाख महिलाओं के आवेदन स्वीकृत हुए हैं। बालाघाट जिले में तीन लाख 41 हजार महिलाओं के फार्म स्वीकृत हुए हैं। योजना के तहत 10 जून को शाम छह बजे के बाद मैं सिंगल क्लिक के माध्यम से सभी पात्र महिलाओं के बैंक खाते में एक हजार रुपये की राशि डालूंगा। ये राशि बैंक खाते में 11 जून को पहुंच जाएगी।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि, "जो बच्चे 12वीं पास हैं या बीए, आइटीआइ उत्तीर्ण करने के बाद बेरोजगार हैं, उनके लिए प्रदेश सरकार मुख्यमंत्री सीखो और कमाओ योजना शुरू कर रही है, जिसके पंजीयन 15 जून से शुरू होंगे। इसमें आवेदक को विभिन्न संस्थाओं में न सिर्फ काम सिखाया जाएगा बल्कि काम सीखने के बाद उन्हें वहां नौकरी भी मिलेगी।"

मुख्यमंत्री ने कहा कि, "लाड़ली बहना योजना के बाद जल्द ही सरकार लाड़ली बहना सेना बना रही है, जिसके तहत छोटे गांवों में वहां की 11 महिलाएं और बड़े गांवों में 21 महिलाएं सेना में शामिल होंगी, जो स्व-सहायता समूह योजना, कन्यादान योजना, लाड़ली बहना जैसी योजनाओं की देखरेख स्वयं करेंगी।"

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com