Bhojshala ASI Survey : भोजशाला ASI सर्वे का आज दूसरा दिन, पहले दिन मिले कई हिन्दू चिन्ह

Bhojshala ASI Survey : आज सर्वे के तहत कहीं महत्वपूर्ण पहलुओं पर कार्य किया जाएगा। वहीं सुरक्षा की दृष्टि से मौके पर भारी बल तैनात किया गया है।
भोजशाला का ASI सर्वेक्षण
भोजशाला का ASI सर्वेक्षणRaj Express

हाइलाइट्स

  • पहले दिन करीब 6 घंटे तक किया था भोजशाला का सर्वे।

  • सर्वे के दौरान मिले हिंदू देवी-देवताओं के चिह्न।

  • आज हो सकती है खुदाई।

Bhojshala ASI Survey : धार, मध्य प्रदेश। भोजशाला में ASI सर्वे का आज दूसरा दिन है। शनिवार को सूर्योदय के साथ ही सर्वे शुरू कर दिया गया है। वैज्ञानिक सर्वे के लिए विशेष रूप से कई तकनीकी उपकरणों को लेकर यह टीम अंदर पहुंची है। सर्वे में कोई बाधा उत्पन्न न हो इसको लेकर मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया है। जानकारी के अनुसार, आज सर्वे के तहत कई महत्वपूर्ण पहलुओं पर कार्य किया जाएगा। वही हिंदू संगठन की ओर से गोपाल शर्मा और आशीष गोयल ने भी प्रवेश कर लिया है। जबकि मुस्लिम समाज की ओर से सदर पहुंचे हैं। हिंदू पक्ष के प्रतिनिधि के रूप में मौजूद आशीष गोयल ने बताया कि टीम को कल के सर्वे के दौरान हिंदू देवी-देवताओं के चिह्न मिले।

दरअसल धार भोजशाला में शुक्रवार से ASI की सर्वे शुरू हो गई है. हाई कोर्ट की इंदौर बैंच के आदेश के बाद ASI की टीम भोजशाला का सर्वे करने पहुंची थी। पहले दिन करीब 6 घंटे तक भोजशाला का सर्वे किया था। इस दौरान हिंदू पक्ष के प्रतिनिधि के रूप में मौजूद आशीष गोयल ने बताया कि टीम को हिंदू देवी-देवताओं के चिह्न मिले। वहीं मुस्लिम पक्ष ने इसे रोकने के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई थी, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। अब इस मामले में 1 अप्रैल को सुनवाई होगी।

हिंदू पक्ष के प्रतिनिधि ने बताया कि, भोजशाला परिसर में ज्ञानवापी की ही तरह एक बावड़ी है। यह मुख्य परिसर से बाहर है, लेकिन 50 मीटर के दायरे में ही है। यहां भी महत्वपूर्ण प्रमाण मिलने की संभावना को देखते हुए टीम बाहरी भाग का निरीक्षण करेगी।

पहले दिन के सर्वे में टीम ने भोजशाला की लंबाई-चौड़ाई और क्षेत्रफल को भी नापा। इसी के साथ ही परिसर में कहां-कहां खोदाई की आवश्यकता है और किन-किन उपकरणों का उपयोग सर्वे में होगा, टीम यह तय करेगी। प्रारंभिक रूप से तीन से अधिक स्थानों पर खोदाई की संभावना बताई है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com