सड़क विकास निगम और महिला स्व-सहायता समूह के बीच हुआ MoU
सड़क विकास निगम और महिला स्व-सहायता समूह के बीच हुआ MoURE-Bhopal

Bhopal News: सड़क विकास निगम और महिला स्व-सहायता समूह के बीच हुआ MoU

Bhopal News: एमओयू के लिए आई महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने सीएम को धन्यवाद किया और उन्हें राखी भी बांधी।

हाइलाइट्स :

  • महिला स्व-सहायता समूह और MP सड़क विकास निगम के बीच हुआ MoU।

  • महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने सीएम को धन्यवाद।

  • महिलाओं ने बांधी सीएम राखी।

भोपाल, मध्यप्रदेश। प्रदेश में महिला सशक्तिकरण को लेकर एक और कदम उठाया गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति में समत्व भवन में मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम अंतर्गत मार्गों पर उपभोक्ता शुल्क संग्रहण महिला स्व-सहायता समूह द्वारा कराये जाने हेतु एमओयू (MoU) संपादित किया गया है। एमओयू के लिए आई महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने सीएम को धन्यवाद किया और उन्हें राखी भी बांधी।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि, 'देश में ऐसा पहली बार हो रहा है कि महिलाओं को टोल प्लाजा के संचालन की जिम्मेदारी दी गई है... मुझे उन पर पूरा भरोसा है। वे टोल प्लाजा का सफलतापूर्वक संचालन करेंगी और राजस्व भी बढ़ाएंगी। एकत्रित राजस्व का 30% महिला स्व-सहायता समूह को दिया जाएगा।'

मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम (Madhya Pradesh Road Development Corporation) अंतर्गत मार्गों पर उपभोक्ता शुल्क संग्रहण महिला स्व-सहायता समूह द्वारा कराये जाने हेतु एमओयू (MoU) के बाद अब उज्जैन-मक्सी मार्ग (Ujjain-Maxi Road) जिला उज्जैन के कायथा टोल-प्लाजा (Kaytha Toll-Plaza) , शाजापुर दोपाड़ा नलखेड़ा मार्ग (Shajapur Dopada Nalkheda Road) जिला आगर के चाचाखेड़ी टोल प्लाजा (Chachakhedi Toll Plaza) और मलहरा चांदला मार्ग (Malhara Chandla Marg) जिला छतरपुर के संजय नगर टोल प्लाजा (Sanjay Nagar Toll Plaza) पर महिला स्व-सहायता समूह की महिलाओं द्वारा उपभोक्ता शुल्क संग्रहण का कार्य किया जाएगा।

क्या है MoU में ?

समझौते के अनुसार, टोल प्लाजा का प्रबंधन करने वाले महिला समूह को टोल कलेक्शन का 30% मिलेगा बाकी का हिस्सा एमपीआरडीसी (MPRDC) को मिलेगा। कैबिनेट निर्णय के तुरंत बाद, समूह के सदस्यों को मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा प्रशिक्षण दिलाया गया। टोल प्लाजा प्रबंधक राजेश पाण्डेय ने उन्हें टोल प्लाजा प्रबंधन के तकनीकी पहलू के बारे में प्रशिक्षित किया।

RE-Bhopal
RE-Bhopal

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com