'छुट भइये' नेता कुछ भी बोलते रहते हैं : कैलाश विजयवर्गीय
'छुट भइये' नेता कुछ भी बोलते रहते हैं : कैलाश विजयवर्गीयSocial Media

'छुट भइये' नेता कुछ भी बोलते रहते हैं : कैलाश विजयवर्गीय

खरगोन, मध्यप्रदेश : राहुल गांधी विदेश में कहते हैं कि प्रजातंत्र खतरे में है और उनकी आवाज दबाई जाती है, यदि प्रजातंत्र खतरे में था तो क्या वे बोल सकते थे।

खरगोन, मध्यप्रदेश। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कांग्रेस सांसद राहुल गांधी के विदेश में कथित रूप से प्रजातंत्र के खतरे में होने के बयानों को लेकर आज कहा कि 'छुट भइये' नेता कुछ भी कहते रहते हैं।

खरगोन जिले के बड़वाह में एक कार्यक्रम के सिलसिले में आए श्री विजयवर्गीय ने पत्रकारों से चर्चा में श्री गांधी के हाल के ही विदेश दौरे के दौरान भारत में प्रजातंत्र खतरे में होने तथा अन्य बयानों को लेकर कहा,

राजनीति में, प्रजातंत्र में कहां विरोध होना चाहिए उसकी समझ होना चाहिए, दुर्भाग्य है कि विपक्ष के पास समझ नहीं है कि कहां विरोध करें।
कैलाश विजयवर्गीय

उन्होंने कहा "वह देश की सड़कों पर विरोध कर सकते हैं, संसद में कर सकते हैं।"

उन्होंने कहा कि श्री गांधी विदेश में कहते हैं कि प्रजातंत्र खतरे में है और उनकी आवाज दबाई जाती है, यदि प्रजातंत्र खतरे में था तो क्या वे (श्री गांधी) बोल सकते थे। श्री विजयवर्गीय ने पूछा कि क्या किसी की आवाज दबाई गई। उन्होंने श्री गांधी की ओर इशारा करते हुए कहा कि 'छुट भइये' नेता कुछ भी बोलते रहते हैं।

श्री विजयवर्गीय ने कहा कि यह दुर्भाग्य है कि कभी भी ऐसा नहीं हुआ कि सत्ता या विपक्ष के नेता ने विदेश में जाकर देश की बुराई की हो। उन्होंने कहा कि तत्कालीन प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव ने नेता प्रतिपक्ष अटल बिहारी वाजपेयी को संयुक्त राष्ट्र संघ की बैठक में भारत का प्रतिनिधित्व करने भेजा था। श्री वाजपेई ने वहां पर भारत सरकार के कार्यों तथा जम्मू कश्मीर का उल्लेख किया था।

उन्होंने कहा कि जब श्री वाजपेई बाहर आए तो पत्रकारों ने कहा कि देश में वे सरकार का विरोध करते हैं, लेकिन यहां तारीफ की गई है। इस पर श्री वाजपेई ने कहा कि देश में वे पार्टी का झंडा उठाए रहते हैं, लेकिन विदेश में वह भारत का झंडा उठा कर भारत का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं, इसलिए भारत की प्रशंसा ही करेंगे।

उन्होंने आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विश्व स्तरीय नेता है और उनके नेतृत्व और शिवराज सिंह चौहान के अनुभव से मध्यप्रदेश में दो तिहाई बहुमत से सरकार बनेगी। उनके चुनाव लड़ने के प्रश्न पर श्री विजयवर्गीय ने कहा कि यह पार्टी तय करेगी।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com