CM Shivraj Meet Jamuni Bai In Sehore
CM Shivraj Meet Jamuni Bai In Sehore RE

मुख्यमंत्री शिवराज को याद आई जमुनी बाई, जिन्होंने उनके हाथ में 2 रुपए थमाते हुए कहा था जा विधायक बनेगा...

CM Shivraj Meet Jamuni Bai: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जहाजपुरा सभा के मंच पर जमुनी बाई को गले लगाकर वो समय खूब याद किया जब वह पैदल यात्राएं करते थे...।

हाइलाइट्स

  • सीएम शिवराज दो रुपए देकर मदद करने वाली जमुनी बाई को देखकर हुए भावुक।

  • सीएम शिवराज संघर्ष के दिनों के साथियों को हमेशा रखते है याद।

  • अन्य राजनेताओं से अलग है मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान।

CM Shivraj Meet Jamuni Bai In Sehore : सीहोर, मध्यप्रदेश। महिला एक खेत में मजदूरी कर रही थी इसी दौरान वहां से एक दुबला-पतला नौजवान कुछ लोगों के साथ गुजर रहा था। जमुनी बाई ने खेत की मेड़ की तरफ दौड़ लगाई और उस नौजवान के हाथ में 2 रुपए थमाते हुए कहा कि, यह रख लो और विधायक बन जाना। ये मजदूर महिला कई वर्षों बाद जहाजपुरा में सभा के लिए बने मंच पर उस समय के नौजवान और अबके सूबे के मुख्यमंत्री से मिल रही है। मुख्यमंत्री को जमुनी बाई याद रही और जमुनी बाई को अपना शिवराज। दोनों जब मिले तो मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने दो रुपए याद आ गए।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जहाजपुरा सभा के मंच पर जमुनी बाई को गले लगाकर वो समय खूब याद किया जब वह पैदल यात्राएं करते थे और चंदा एकत्रित कर आंदोलन और प्रदर्शन किया करते थे। सीएम शिवराज ने कुछ यूँ किया याद..उन्होंने कहा कि, आज जहाजपुरा की जमुनी बाई से मुलाकात हुई...। जब सीएम विधायक नहीं था उस समय मजदूर जमुनी बाई ने अपनी मजदूरी से काटकर 2 रुपए का चंदा मुझे विधायक बनने के लिए दिया था...।

दरअसल, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान रविवार को सीहोर जिले के एक गांव जहाजपुर में सभा करने पहुंचे थे। इस दौरान सीएम ने अपने संघर्ष के दिनों में 2 रुपए देकर मदद करने वाली जमुनी बाई से मुलाकात की। जमुनी बाई से मुलाकात कर सीएम शिवराज सिंह चौहान भाव-विभोर हो गए और सीएम ने जमुनी बाई को गले लगा लिया और उनका पैर छूकर आशीर्वाद लिया।

अन्य राजनेताओं से अलग मुख्यमंत्री शिवराज

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जितने अच्छे राजनेता है उतने ही अच्छे इंसान भी है। अपने संघर्ष के दिनों के साथियों को वो कभी नहीं भूलते है। जब भी मौका मिलता है मुख्यमंत्री चौहान अपने साथियों से मुलाकात कर उन्हें अपनेपन का एहसास दिलाने में पीछे नहीं हटते। यहाँ यह भी कहा जा सकता है कि, मुख्यमंत्री अपने साथियों से सिर्फ शिवराज सिंह चौहान बनकर मिलते है। उनकी सरलता, सहजता और अपनों को याद रखने का आचरण उन्हें अन्य राजनेताओं की भीड़ से अलग खड़ा करता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com