कांग्रेसी ताला लेकर चलते हैं और सरकार में आने पर BJP की जनकल्याणकारी योजनाओं पर ताला डाल देते: CM

CM Taunt on Kamal Nath Statement: सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा- मैं विकास का नारियल लेकर चलता हूं, तो वहीं कांग्रेसी ताला लेकर चलते हैं।
CM Taunt on Kamal Nath Statement
CM Taunt on Kamal Nath StatementSocial Media

हाइलाइट्स :

  • कमलनाथ के बयान पर CM शिवराज सिंह ने तंज कसा

  • CM ने कहा- कांग्रेसी ताला लेकर चलते हैं

  • मैं योजनाओं का शिलान्यास करता हूं नारियल फोड़ता हूं

CM Taunt on Kamal Nath Statement: "मैं विकास का नारियल लेकर चलता हूं। मैं योजनाओं का शिलान्यास करता हूं नारियल फोड़ता हूं...मैं नारियल लेकर चलता हूं और वे (कमलनाथ) ताला लेकर चलते हैं। उनकी सरकार आने पर वे भाजपा की योजनाओं पर ताला लगा देते हैं" कमलनाथ के बयान पर CM शिवराज सिंह चौहान ने तंज कसा है।

मैं विकास का नारियल लेकर चलता हूं, तो वहीं कांग्रेसी ताला लेकर चलते हैं: CM

सीएम शिवराज ने ट्वीट कर लिखा- मैं विकास का नारियल लेकर चलता हूं, तो वहीं कांग्रेसी ताला लेकर चलते हैं और सरकार में आने पर भाजपा की जनकल्याणकारी योजनाओं पर ताला डाल देते हैं।

कांग्रेस ने...

  • आहार अनुदान पर ताला डाला

  • संबल योजना पर ताला डाला

  • बच्चों की साइकिल पर ताला डाला

  • लैपटॉप की योजना पर ताला डाला

  • बुजुर्गों की तीर्थ दर्शन योजना पर ताला डाला

आगे सीएम शिवराज ने मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव को बार-बार प्रदेश के भविष्य का चुनाव बता रहे पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ के इस बयान पर हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस ने इस चुनाव को प्रदेश के भविष्य का नहीं, बल्कि नकुलनाथ (कमलनाथ के बेटे) और जयवर्धन (दिग्विजय के बेटे) के भविष्य का चुनाव बना दिया है।

कमलनाथ बार-बार कह रहे हैं कि ये प्रदेश के भविष्य का चुनाव है, जबकि कांग्रेस ने यह चुनाव नकुलनाथ और जयवर्धन के भविष्य का चुनाव बना दिया है। मध्यप्रदेश में कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे ने कमलनाथ को टिकट बांटने की फ्रेंचाइजी दे दी। फ्रेंचाइजी लेकर अब कमलनाथ किसी की नहीं सुन रहे। वे अपने बेटे नकुलनाथ को और दिग्विजय अपने बेटे जयवर्धन को स्थापित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कमलनाथ के लिए दिल्ली का सर्वे कोई मायने नहीं रख रहा, दिल्ली की उन्हें सुनना नहीं है। वे ‘इंडिया’ गठबंधन को भी अपमानित कर रहे हैं। सोनिया, राहुल और प्रियंका गांधी, कमलनाथ किसी की नहीं सुन रहे। वे तो सिर्फ अपनों को स्थापित करने के काम में लगे हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com