GWALIOR : डॉ.धाकड़ हटाओ जेएएच बचाओ के नारे लगाने वाले संगठन अब बैकफुट पर

कतिपय संगठनों के लोगों को बहला-फुसलाकर बिना किसी आधारएवं सबूत के डॉ.धाकड़ की छवि खराब कर एवं अस्पताल और कॉलेज प्रशासन पर दबाव बनाने का काम किया जा रहा है। इसे आईएमए बर्दाश्त नहीं करेगा।
जीआरएमसी ग्वालियर
जीआरएमसी ग्वालियरRE Gwalior

ग्वालियर,मध्य प्रदेश। डॉ.आरकेएस धाकड़ को अधीक्षक पद से हटाओ और जेएएच बचाओ के नारे लगाने वाले संगठन पदाधिकारी अब बैकफुट पर आ गए हैं। कर्मचारी कांग्रेस संगठन के अध्यक्ष ने संभागायुक्त को पत्र दिया है। इसमें उन्होंने स्वीकार किया है कि संयुक्त मोर्चा से मेरा कोई लेना-देना है। अधीक्षक महोदय से भी मुझे कोई शिकायत नहीं है। इधर, आईएमए ने जीआरएमसी अधिष्ठाता को पत्र सौंपकर अधीक्षक के खिलाफ षड़यंत्र रचने वालों पर सख्त कार्रवाई की मांग की है। 

कर्मचारी कांग्रेस अध्यक्ष मधुसूदन शर्मा ने संभागायुक्त को पत्र दिया है। इसमें उन्होंने लिखा कि 1 मार्च को संभागायुक्त दीपक सिंह को दिए गए ज्ञापन में मुझे बिना पढ़ाए ही हस्ताक्षर करा लिए गए थे। जो आरोप लगाए गए वे तथ्यहीन हैं। उस समय में भ्रमित  था और मुझे इस संबंध में विस्तृत से जानकारी नहीं थी। मुझे सिर्फ कर्मचारी हितों के बारे में बताया गया था, अधीक्षक के खिलाफ शिकायत की जानकारी मुझे नहीं दी गई थी। पत्र में मधुसूदन शर्मा ने यह भी लिखा है कि संयुक्त मोर्चा से मेरा कोई लेना-देना नहीं है। अधीक्षक महोदय से भी मुझे कोई शिकायत नहीं है। इस पत्र के बात लोग मधुसूदन शर्मा के खिलाफ तमाम तरह की बातें कर रहे हैं, क्योंकि मधुसूदन शर्मा का जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। उसमें वह लिखित के साथ-साथ मौखिक रूप से भी संभागायुक्त दीपक सिंह से अधीक्षक की शिकायत करते हुए देखे जा सकते हैं।

जब इस संबंध में मधुसूदन शर्मा से बात करनी चाही तो उन्होंने फोन अटेंड नहीं किया। यहां बता दें कि 1 मार्च को संयुक्त मोर्चा के बैनर तले नर्सेस एसोसियेशन, मप्र लघुवेतन कर्मचारी संघ, मप्र कर्मचारी कांग्रेस, नर्सिंग ऑफिसर एसोसियेशन, अजाक्स संघ, और राज्य कर्मचारी संघ ने जेएएच अधीक्षक डॉ.आरकेएस धाकड़ के खिलाफ संभागायुक्त को ज्ञापन सौंपा था। 

आईएमए ने की कठोर कार्रवाई की मांग

आईएमए अध्यक्ष डॉ.राहुल सप्रा और सचिव डॉ.ब्रजेश सिंघल ने जीआरएमसी अधिष्ठाता डॉ.अक्षय निगम को पत्र दिया है। पत्र में उन्होंने लिखा है कि गजराराजा चिकित्सा महाविद्यालय एवं जेएएच के मुख्य पदों पर असीन पदाधिकारी वरिष्ठ चिकित्सा शिक्षक हैं। पिछले दिनों आईएमए के संज्ञान में आया है कि जेएएच अधीक्षक के विरूद्ध षडयंत्रपूर्वक अपने स्वार्थों की पूर्ति के लिए कुछ स्वार्थी लोग दुष्प्रचार कर रहे हैं। कतिपय संगठनों के लोगों को बहला-फुसलाकर बिना किसी आधारएवं सबूत के डॉ.धाकड़ की छवि खराब कर एवं अस्पताल और कॉलेज प्रशासन पर दबाव बनाने का काम किया जा रहा है। इसे आईएमए बर्दाश्त नहीं करेगा। आईएमए मांग करता है कि ज्ञापन देने वालों को बुलाकर उनसे पूछताछ की जाये और झूठे षडयंत्र रचने वाले के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाए। 

गरिमा को ठेस लगने से बचाएं : डॉ.अग्रवाल

ग्वालियर ऑर्थोपेडिक सोसाइटी के अध्यक्ष, सचिव और समस्त सदस्यों ने अधिष्ठाता डॉ.अक्षय निगम को पत्र दिया है। पत्र के माध्यम से उन्होंने डॉ.धाकड़ की छवि खराब करने वाले संगठनों व ज्ञापन की पूर्ण सत्यता की जांच की मांग की है। साथ ही उन्होंने लिखा है कि जांच कर चिकित्सकों के पेशे व हमारे वरिष्ठ सदस्य की गरिमा को ठेस लगने से बचाएं। 

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com