International Clean Air Day in Bhopal
International Clean Air Day in BhopalRE-Bhopal

भोपाल में आयोजित हुआ अंतर्राष्ट्रीय स्वच्छ वायु दिवस, इंदौर को मिला स्वच्छ वायु सर्वेक्षण में प्रथम पुरस्कार

International Clean Air Day in Bhopal: स्वच्छ वायु सर्वेक्षण 2023 में 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों की श्रेणी में इंदौर को प्रथम, आगरा को द्वितीय और महाराष्ट्र के ठाणे को तृतीय पुरस्कार दिया गया।

हाइलाइट्स :

  • स्वच्छ वायु सर्वेक्षण में भोपाल को मिला 5वाँ स्थान।

  • जबलपुर ने 13वाँ और ग्वालियर ने 41वाँ स्थान।

  • सीएम चौहान ने कहा, इंदौर को सभी प्रतियोगिता में प्रथम आने की आदत हो गई है।

International Clean Air Day in Bhopal: भोपाल, मध्यप्रदेश। पहली बार इंटरनेशनल-डे ऑफ क्लीन एयर फॉर ब्ल्यू स्काईज कार्यक्रम का आयोजन दिल्ली से बाहर किया गया। यह कार्यक्रम मध्यप्रदेश के भोपाल स्थित कुशाभाऊ ठाकरे सभागार में आयोजित हुआ। कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और केन्द्रीय पर्यावरण वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेन्द्र यादव शामिल हुए। स्वच्छ वायु सर्वेक्षण 2023 में 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों की श्रेणी में इंदौर को प्रथम, आगरा को द्वितीय और महाराष्ट्र के ठाणे को तृतीय पुरस्कार दिया गया।

इंदौर को सभी प्रतियोगिता में प्रथम आने की आदत हो गई है- CM चौहान

सीएम चौहान ने इस कार्यक्रम में कहा, प्रकृति का शोषण नहीं दोहन किया जाना चाहिए। प्रकृति से उतनी मात्रा में ही लेना चाहिए जितनी आवश्यकता है। भारत कहता है कि, एक ही चेतना हम सब में है। सभी प्राणियों में सद्भाव और विश्व का कल्याण हो ऐसी कामना हम करते हैं। पीएम मोदी विश्व को life का संकल्प दिया। मध्यप्रदेश इन सभी संकल्पनाओं को धरातल पर लागू करने का काम कर रहा है। हमने जो प्रयास किये हैं उसके परिणाम आ रहें हैं। पांच तत्वों में से एक पवन है। यदि वायु स्वच्छ न हो तो जीवन संभव नहीं हैं। इंदौर को तो सभी प्रतियोगिता में प्रथम आने की आदत हो गई है। जिन शहरों को यहाँ पुरस्कार मिला है उन्हें भी बधाई। मध्यप्रदेश के भोपाल को 5 वे जबलपुर को 13 वां और ग्वालियर को 41 वां स्थान मिला है। 3 से 10 लाख आबादी श्रेणी में सागर को 10 वन और 3 लाख से कम की आबादी में देवास को छटवां स्थान मिला है।

कार्यक्रम में शहरों द्वारा वायु प्रदूषण कम करने के उत्तम प्रयासों के "सार-संग्रह" का विमोचन किया गया। इससे अन्य शहरों द्वारा स्वच्छ वायु की दिशा में किए जा रहे प्रयासों को गति मिलेगी। मध्यप्रदेश ने विशेष सफलता हासिल की है। दस लाख से अधिक आबादी वाले शहरों की श्रेणी में इंदौर ने प्रथम और भोपाल ने 5वाँ स्थान, जबलपुर ने 13वाँ और ग्वालियर ने 41वाँ स्थान प्राप्त किया है। तीन से 10 लाख तक शहरों की श्रेणी में सागर को देश में 10वाँ और 3 लाख से कम आबादी वाले शहरों में देवास को 6वाँ स्थान मिला है।

कार्यक्रम में नेशनल क्लीन एयर प्रोग्राम की सफलता की कहानियों और मिशन लाइफ पर आधारित लघु फिल्मों का प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर प्रदर्शनी में मिशन लाइफ, गौ-काष्ठ, अपशिष्ट प्रबंधन, कार्बन कैप्चर, प्रदूषण नियंत्रण के उपाय, प्लास्टिक अपशिष्ट प्रबंधन, क्लीन एयर प्रोजेक्ट, सेल्फी कियोस्क, सीमेंट उद्योग में प्रदूषण नियंत्रण, भीमा बाँस रोपण आदि के स्टॉल थे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com