जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज में छात्रों का हंगामा
जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज में छात्रों का हंगामाRE-Bhopal

Jabalpur News: इंटर्नशिप और प्लेसमेंट्स को लेकर जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज में छात्रों का हंगामा

Jabalpur Engineering College Student Protest: प्रदर्शन कर रहे छात्रों का कहना है कि, दो- तीन साल में सिर्फ एक कंपनी ही प्लेसमेंट में आई है, उन्होंने भी परीक्षा नहीं करवाई।

हाइलाइट्स :

  • जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज में छात्रों ने मांगा लिखित आश्वासन।

  • छात्रों ने कॉलेज के गेट पर जमकर प्रदर्शन किया।

  • इंटर्नशिप करने पर लगाई गई रोक से भी छात्र नाराज।

भोपाल, मध्यप्रदेश। मध्यप्रदेश के जबलपुर में सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेज में बुधवार को छात्रों ने जमकर हंगामा किया। छात्रों का कहना है कि कॉलेज में बीते एक साल से प्लेसमेंट नहीं आया है। इस कारण इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्र काफी निराश है।

प्लेसमेंट्स और इंटर्नशिप न मिलने से गुस्साए छात्रों ने जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज के गेट पर बुधवार को जमकर प्रदर्शन किया। हंगामे की सूचना मिलते ही रांझी तहसीलदार और पुलिस मौके पर पहुंची और छात्रों को समझने की कोशिश की ,लेकिन छात्र अपनी बात पर अड़े थे कि, जब तक सांसद आकर प्लेसमेंट्स करवाने का आश्वाशन लिखित में नहीं देते तब तक प्रदर्शन जारी रहेगा।

छात्रों का आरोप :

प्रदर्शन कर रहे छात्रों का कहना है कि, दो- तीन साल में सिर्फ एक कंपनी ही प्लेसमेंट में आई है। उन्होंने भी परीक्षा नहीं करवाई। जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज में हंगामा कर रहे छात्रों का कहना है कि, बीते 1 साल में एक भी कंपनी प्लेसमेंट के लिए नहीं आई है। एक कंपनी आई तो लेकिन वह भी कॉलेज कैंपस में परीक्षा नहीं करवा पायी। कॉलेज प्रबंधन ने कभी भी छात्रों के हित पर ध्यान नहीं दिया यही वजह है कि आज अपनी पढ़ाई को छोड़कर हम छात्र सड़क पर उतरे हैं।

प्रिंसिपल ने केबिन में बुलाकर धमकाया :

प्रदर्शन में मौजूद छात्रों ने बताया कि, जब- जब हमने हंगामा किया तो प्रिंसिपल ने 10 से 12 छात्रों को अपने केबिन में बुलाकर धमकी दी गई कि अगर प्रदर्शन करेंगे तो उनकी डिग्री रोक ली जाएगी। छात्रों ने बताय कि, बीते 5 साल पहले यहां पढ़ने वाले छात्रों का पैकेज 15-16 लाख प्रति वर्ष था, जो कि अब घटकर साढ़े तीन लाख से भी कम हो गया है। इसी वजह से हमें सड़क पर उतरकर अपने हक की लड़ाई करनी पड़ रही है।

CM या फिर सांसद द्वारा दिया गया आश्वाशन स्वीकार करेंगे :

इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों का कहना है कि, अब लिखित में जो भी आश्वासन दिया जाए वह CM या फिर सांसद के द्वारा दिया जाए। इंजीनियरिंग कॉलेज का प्लेसमेंट इस साल जीरो है इसके साथ ही अब कॉलेज प्रशासन ने छात्रों को इंटर्नशिप करने पर भी रोक लगा दी है, जिसको लेकर सभी छात्र शासन-प्रशासन से नाखुश हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com