हिंदूवादी नेता जयभान सिंह पवैया की बढ़ाई गई सुरक्षा
हिंदूवादी नेता जयभान सिंह पवैया की बढ़ाई गई सुरक्षाRE

MP News: हिंदूवादी नेता जयभान सिंह पवैया की बढ़ाई गई सुरक्षा, मिली Z प्लस सिक्योरिटी

MP News: हिंदूवादी व भाजपा नेता जयभान सिंह पवैया से जुड़ी बड़ी खबर सामने आया है। बता दें, जयभान सिंह पवैया की सुरक्षा को बढ़ाया गया है।

हाइलाइट्स-

  • हिंदूवादी नेता जयभान सिंह पवैया की बढ़ाई गई सुरक्षा।

  • कट्टरवादी संगठनों से जयभान सिंह पवैया को है खतरा।

  • जयभान सिंह पवैया को मिली Z सिक्योरिटी।

ग्वालियर, मध्य प्रदेश। हिंदूवादी व भाजपा नेता जयभान सिंह पवैया से जुड़ी बड़ी खबर सामने आया है। बता दें, जयभान सिंह पवैया की सुरक्षा को बढ़ाया गया है। बताया जा रहा है कि, पवेया को कट्टरवादी संगठनों से खतरा है। इंटेलिजेंस के इनपुट के आधार पर उनकी सुरक्षा बढ़ाकर Z कैटेगरी की गई है। जानकारी मिली थी कि, राम मंदिर से जुड़े नेताओं को कट्टरवादी संगठनों से खतरा है। बता दें, पवैया राममंदिर आंदोलन से जुड़े रहे है।

जानकारी के अनुसार, हिंदूवादी नेता जयभान सिंह पवैया को कट्टरवादी संगठनों से खतरा है। इंटेलिजेंस को ऐसा इनपुट मिलने के बाद ये कदम उठाया गया है। बताया जाता है कि, यह कदम इसलिए उठाया गया है, क्योंकि जनवरी माह में अयोध्या में नवनिर्मित राम मंदिर को जनता का समर्पित किया जाएगा। इसके मद्दे नजर कट्टरवादी संगठन 1992 में बाबरी मस्जिद विध्वंस में शामिल हिदूं वादी नेताओं के खिलाफ साजिश रच सकते हैं। बजरंग दल के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और हिंदूवादी नेता जयभान सिंह पवैया भी राम मंदिर आंदोलन से जुड़े रहे हैं।

कौन हैं जयभान सिंह पवैया:

वहीं, अगर जयभान सिंह पवैया के बारे में बात करे, तो जयभान सिंह पवैया भाजपा सरकार में मंत्री रह चुके हैं और आज भी राजनीति में सक्रिय हैं। जयभान वर्ष 1973 में आरएसएस के स्वयंसेवक बने। उन्होंने 1974 में जय प्रकाश नारायण के संपूर्ण क्रांति आंदोलन (जेपी आंदोलन) में भाग लिया। 1973 से 1982 की अवधि के दौरान पवैया ने अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के साथ शहर अध्यक्ष, राष्ट्रीय कार्यकारी समिति के सदस्य के रूप में काम किया। उन्हें 1983 में आरएसएस द्वारा विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) में मध्य प्रदेश के संयुक्त सचिव के रूप में नियुक्त किया गया था। वह 1993 में बजरंग दल के राष्ट्रीय महासचिव थे और 1995 से बजरंग दल के दूसरे राष्ट्रीय अध्यक्ष बने।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com