कथावाचक मुरारी बापू पहुंचे उज्जैन
कथावाचक मुरारी बापू पहुंचे उज्जैनRaj Express

कथावाचक मुरारी बापू पहुंचे उज्जैन, महाकाल के अभिषेक के बाद सुनाएंगे श्रीराम कथा

Morari Bapu in Ujjain Mhakal Temple: महाकाल मंदिर के पास सरस्वती स्कूल में सुबह 10.30 से दोपहर 1.30 बजे तक एक दिन की रामकथा का आयोजन किया जा रहा है।

हाईलाइट्स

  • श्रावण अधिकमास में कथावाचक मुरारी बापू 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा कर रामकथा सुना रहे।

  • विशेष ट्रेन से ऋषिकेश से शुरू हुई यात्रा शनिवार को उज्जैन पहुंची।

  • 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा करने वाली विशेष ट्रेन का नाम कैलाश।

  • इस यात्रा में अमेरिका, लंदन, साउथ अफ्रीका के विदेशी भक्त भी शामिल।

Morari Bapu in Ujjain Mhakal Temple: उज्जैन, मध्यप्रदेश। 12 ज्योतिर्लिंगो में प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में शनिवार को संतश्री मोरारी बापू ने भगवान महाकाल के दर्शन करने पहुंचे है। स्टेशन पर कथावाचक मुरारी बापू का जोरदार स्वागत किया गया। कथावाचक मुरारी बापू ने गर्भगृह में भगवान महाकाल का पूजन -अभिषेक किया। इसके बाद कथावाचक मुरारी महाकाल मंदिर के पास सरस्वती स्कूल में सुबह 10.30 से दोपहर 1.30 बजे तक भक्तों को एक दिन की रामकथा सुनाएंगे।

विशेष ट्रेन से 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा

श्रावण अधिकमास में कथावाचक मुरारी बापू 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा कर रामकथा सुना रहे हैं। वे विशेष ट्रेन से यात्रा कर रहे हैं। ऋषिकेश से शुरू हुई यात्रा शनिवार को उज्जैन पहुंची। रामकथा वाचक मोरारी बापू की यह यात्रा विशेष ट्रेन से ऋषिकेश से शुरू हुई, इसके बाद विश्वनाथ, मलिक्कार्जुन, बैद्यनाथ, नागेश्वर, रामेश्वरम, भीमाशंकर, ओंकारेश्वर, घृष्णेश्वर, त्रयंबकेश्वर, महाकालेश्वर और सोमनाथ ज्योर्तिलिगों तक जाएंगी।

22 डिब्बे की विशेष ट्रेन का नाम कैलाश, इस यात्रा में विदेशी भक्त भी शामिल

बापू की 12 ज्योतिर्लिंगों की यात्रा करने वाली 22 डिब्बे की विशेष ट्रेन का नाम कैलाश हैं। भारतीय रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) के सहयोग से ट्रेन को तैयार किया गया है। इस यात्रा में उनके साथ 301 भक्त शामिल हैं, इनमें अमेरिका, लंदन, साउथ अफ्रीका के विदेशी भक्त भी हैं।

आदित्य दिनेश सुखनंदन जोशी ने बताया, दर्शन और पूजन के उपरांत सीधे सरस्वती स्कूल परिसर स्थित व्यास पीठ पर भक्तों को श्रीराम कथा सुना रहे है। श्रद्धालु सुबह 10 बजे सरस्वती स्कूल परिसर पहुंचे है। श्रीराम कथा श्रवण का पुण्य लाभ ले सकते हैं कोई भी भक्त कथा सुनने आ सकते हैं। इसके लिए किसी प्रकार के विशेष पास आदि की आवश्यकता नहीं है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com