आज अरुण खेत्रपाल का बलिदान दिवस
आज अरुण खेत्रपाल का बलिदान दिवसSocial Media

बलिदान दिवस : CM ने कहा- अरुण खेत्रपाल की गौरव गाथा सदैव युवाओं को प्रेरित करती रहेगी

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज अरुण खेत्रपाल का बलिदान दिवस है, भारत मां के वीर बेटे परमवीर चक्र से सम्मानित सेकेंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल के बलिदान दिवस पर CM ने विनम्र श्रद्धांजलि दी है।

भोपाल, मध्यप्रदेश। आज अरुण खेत्रपाल का बलिदान दिवस है। आज के दिन (16 दिसम्बर, 1971) अरुण खेत्रपाल का निधन हुआ था। भारत मां के वीर बेटे परमवीर चक्र से सम्मानित सेकेंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल (Arun Khetarpal) के बलिदान दिवस पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर उन्हें नमन एवं विनम्र श्रद्धांजलि दी है।

अरुण खेत्रपाल के बलिदान दिवस पर CM ने दी विनम्र श्रद्धांजलि

मध्यप्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर कहा- 1971 में पाकिस्तान के विरुद्ध अदम्य साहस, शौर्य, पराक्रम का प्रदर्शन करते हुए 21 वर्ष की अल्पायु में प्राणोत्सर्ग करने वाले, परमवीर चक्र से सम्मानित, सेकेंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल के बलिदान दिवस पर विनम्र श्रद्धांजलि। आपकी गौरव गाथा सदैव युवाओं को प्रेरित करती रहेगी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि सर्वोच्च सैन्य अलंकरण परमवीर चक्र से सम्मानित सेकेण्ड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल के बलिदान दिवस पर उन्हें शत्-शत् नमन। 1971 के युद्ध में पाकिस्तान के विरुद्ध अदम्य साहस का परिचय देने व मातृभूमि की रक्षा में 21 वर्ष की अल्प आयु में प्राणोत्सर्ग करने वाले ऐसे लाल पर हमें गर्व है।

अरुण खेत्रपाल की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि: नरोत्तम मिश्रा

वही नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट कर कहा कि '71 की जंग के हीरो, महज 21 साल की उम्र में पाकिस्तान को धूल चटाकर देश के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वाले परमवीर चक्र से सम्मानित सेकंड लेफ्टिनेंट अरुण खेत्रपाल की पुण्यतिथि पर विनम्र श्रद्धांजलि। उनका शौर्य और पराक्रम हमारे वीर जवानों को हमेशा प्रेरणा देता रहेगा।

भारतीय सेना के एक अधिकारी थे अरुण खेत्रपाल :

आपको बताते चले कि अरुण खेत्रपाल का जन्म 14 अक्टूबर 1950 को पुणे, महाराष्ट्र में हुआ था। सेकेण्ड लेफ्टिनेन्ट अरुण खेत्रपाल, परमवीर चक्र भारतीय सेना के एक अधिकारी थे जिन्हें दुश्मन के सामने बहादुरी के लिए भारत का सर्वोच्च सैन्य अलंकरण परमवीर चक्र मरणोपरान्त प्रदान किया गया था। सेकेण्ड लेफ्टिनेन्ट अरुण खेत्रपाल 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में अद्भुत पराक्रम दिखाते हुए वे वीरगति को प्राप्त हुए थे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com