मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलन
मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलनSocial Media

बड़नगर शहर के लिए मल्टीपर्पज इंडोर स्टेडियम 20 करोड़ की लागत से बनाया जाएगा: CM

उज्जैन, मध्य प्रदेश। उज्जैन में आयोजित 'मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलन' में मुख्यमंत्री ने कहा कि, मैं लाड़ली बहनों का भाई, बच्चों का मामा और बुजुर्गों का बेटा हूँ।

उज्जैन, मध्य प्रदेश। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने बड़नगर, जिला उज्जैन में आयोजित 'मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलन' का शुभारंभ बहनों एवं कन्याओं के पूजन तथा दीप प्रज्वलन के साथ किया।

'मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलन' में CM ने कहा-

'मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलन' में मुख्यमंत्री ने कहा कि, मैं लाड़ली बहनों का भाई, बच्चों का मामा और बुजुर्गों का बेटा हूँ। मैं मुख्यमंत्री के रूप में सरकार नहीं, परिवार चला रहा हूँ, मैंने बेटा-बेटी में भेदभाव होते देखा है, पहले बेटियों को बोझ मानकर उन्हें कोख में ही मार दिया जाता था। बेटी के बिना दुनिया नहीं चल सकती, बेटी है तो कल है। इसलिए हमने लाड़ली लक्ष्मी योजना बनाकर 46 लाख बेटियों को लखपति बना दिया।

मुख्यमंत्री बोले- मेरे मन में टीस थी कि अपनी जरूरतों के लिए बहनों को परिवार के सामने हाथ फैलाने पड़ते थे। इसलिए हमने तय किया कि बहनों को मजबूर नहीं रहने देंगे और मुख्यमंत्री लाड़ली_बहना_योजना बनाई। जब से लाड़ली बहना योजना का पैसा बहनों को मिलने लगा है, तब से परिवार में बहनों का सम्मान बढ़ा है, बहनों, अब अक्टूबर के महीने से 1250 तुम्हारे खाते में आएंगे।

मेरी बहनों, तुमने फूलों की वर्षा कर अपने भाई का स्वागत किया है, मैं तुम्हारी जिंदगी में कोई कांटे नहीं रहने दूंगा। राखी के इस कच्चे धागे की कसम, जो विश्वास आपने व्यक्त किया है, उस विश्वास को कभी टूटने नहीं दूंगा।

CM शिवराज

उज्जैन में आयोजित 'मुख्यमंत्री लाड़ली बहना सम्मेलन'

सीएम ने की ये घोषणा

मुख्यमंत्री ने कहा कि, मेरी 21 से 23 साल की बहनों को भी अब एक हजार रुपये महीना मिल रहा है, अब मेरी बहनें एक करोड़ 32 लाख हो गई हैं और कुछ बहनें छूट गई हैं उनके भी जल्दी फॉर्म भरवाऊंगा।

➡️बड़नगर के बचे हुए गांवों को भी नर्मदा लाइन से जोड़ा जाएगा।

➡️बड़नगर उपजेल के सामने नवीन अस्पताल के लिए 700 मीटर सड़क का निर्माण किया जाएगा।

➡️बड़नगर शहर के लिए मल्टीपर्पज इंडोर स्टेडियम 20 करोड़ की लागत से बनाया जाएगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com