Rajasthan Election 2023 : इस सीट पर भाजपा बदलेगी अपना प्रत्याशी, जाति प्रमाण पत्र है बड़ा कारण !

Rajasthan Election 2023 : राजस्थान की बारां- अटरू विधानसभा सीट से भाजपा प्रत्याशी सारिका सिंह चौहान का नाम भी बदले जाने की खबरे आ रही है।
Rajasthan Election 2023
Rajasthan Election 2023RE

हाइलाइट्स :

  • बारां- अटरू विधानसभा सीट पर भाजपा बदल सकती है प्रत्याशी

  • मध्यप्रदेश की बेटी और राजस्थान की बहु सारिका सिंह का कटेगा नाम

  • भाजपा के भीतर टिकट वितरण को लेकर चल रहा बड़ा विरोध

राज एक्सप्रेस। चुनावों में टिकट वितरण के बाद किसी भी पार्टी के भीतर विरोध होना आज कल आम बात हो गयी है। ऐसा इस लिए क्योंकि एक सीट पर किसी भी एक पार्टी बहुत से कार्यकर्त्ता या नेताओं की फ़ौज होती है जो टकटकी लगाए उम्मीदवार की सूची में अपना नाम देखना चाहते है। बहरहाल, 5 राज्यों में होने वाले चुनाव में पार्टियों के भीतर का यह आतंरिक विरोध इतना बड़ा हो गया कि अब यह सड़कों तक आ पहुँचा है जिसके कारण किसी प्रत्याशी का नाम एक सीट से घोषित करने के बावजूद कुछ दिन बाद उनका नाम काट दिया जाता है।

राजस्थान की बारां- अटरू विधानसभा सीट (Baran-Atru Assembly Seat) से भाजपा प्रत्याशी सारिका सिंह चौहान (Sarika Singh Chaouhan) का नाम भी बदले जाने की खबरे आ रही है लेकिन बाकि जगहों की तरह इसका कारण आतंरिक विरोध नहीं बल्कि जाति प्रमाण पत्र में गड़बड़ी है।

क्या है पूरा मामला ?

खबरे आ रही है कि, राजस्थान में बारां जिले की बारां- अटरू विधानसभा सीट पर भाजपा अपनी प्रत्याशी सारिका सिंह चौहान को बदल सकती है और आगे आने वाली पांचवी सूची में में सारिका सिंह का नाम काटकर किसी दूसरे प्रत्याशी का नाम शामिल किया जाएगा। सारिका सिंह चौहान का नाम भाजपा की 2 नवंबर को आईओ तीसरी सूची में शामिल था। उन्हें इस सीट से बदलने की वजह यह बताई जा रही है कि सारिका सिंह चौहान का जाति प्रमाण पत्र (Caste Certificate)। ऐसा इसलिए क्योंकि सारिका सिंह मूल रूप से मध्यप्रदेश की रहने वाली थी जिन्होंने राजस्थान में शादी की।

मध्यप्रदेश में सारिका सिंह चौहान की जाति ओबीसी कैटेगरी में है जबकि जिस समाज में वह शादी कर बहु बनकर आयी थी वह राजस्थान में अनुसूचित जाति कैटेगरी में है। इसी वजह से भाजपा ने बारां-अटरू सीट जो कि अनुसूचित जाति के आरक्षित सीट है, वह से सारिका को मैदान में उतरा था।

ताज़ा आयी खबर के मुताबिक, इस सीट पर फिलहाल फिर से उम्मीदवार चयन को लेकर बैठकों का दौर शुरू होगा। सारिका के चचेरे ससुर औंकारलाल चौहान जनता दल सरकार में स्वास्थ्य उप मंत्री रहे थे और सारिका पहले बारां जिले की पार्टी अध्यक्ष भी रह चुकी है। खबरे यह भी आ रही है कि अगर सारिका सिंह का टिकट बदला जाता है तो बारां-अटरू सीट पर भी राजस्थान में भाजपा एक और सीट पर विरोध का सामना कर पद सकता है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com