Rajasthan Election 2023 : कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, सीएम गहलोत के 'हमशकल' नेता हुए कमल के साथ

Rajasthan Election 2023 : मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी नेता रामेश्वर दाधीच ने भाजपा में शामिल हो कर कांग्रेस को झटका दे दिया।
Rajasthan Election 2023
Rajasthan Election 2023RE

हाइलाइट्स :

  • जोधपुर में लगा कांग्रेस और सीएम गहलोत को बड़ा झटका

  • गहलोत के करीबी और हमशकल माने जाने वाले रामेश्वर दाधीच, भाजपा में शामिल

  • सूरसागर विधानसभा सीट से टिकट न मिलने से थे नाराज़

राज एक्सप्रेस। राजस्थान चुनाव हर दिन जनता के सामने एक नया ट्विस्ट लेकर आ रहा है। एक तरफ जहाँ राजस्थान की उच्च न्यायालय ने कल डूंगरपुर के सरकारी डॉक्टर दीपक घोघरा को चुनाव लड़ने और हार जाने के बाद दुबारा ड्यूटी ज्वाइन करने की अनुमति दी तो वही नामांकन वापस करने की अंतिम तिथि के बाद आज मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी नेता ने भाजपा में शामिल हो कर कांग्रेस को झटका दे दिया।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी रामेश्वर दाधीच भाजप में हुए शामिल :

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबी सहयोगी और जोधपुर के पूर्व मेयर रामेश्वर दाधीच आज गजेंद्र सिंह शेखावत, राजस्थान के सह प्रभारी विजया रहाटकर, आरएस सांसद राजेंद्र गहलोत और पूर्व आरएस सांसद नारायण पंचारिया की उपस्थिति में पार्टी मुख्यालय में एक कार्यक्रम में भाजपा में शामिल हो गए। दाधीच मुख्यमंत्री मंत्रिमंडल के प्रमुख सदस्य रहे हैं और पिछले चार दशकों से सीएम गहलोत के साथ काम करते हुए आए थे। रामेश्वर दाधीच के साथ दौसा के पूर्व जिला प्रमुख कांग्रेस नेता विनोद शर्मा ने भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

कौन है रामेश्वर दाधीच जिन्हें गहलोत का हमशकल भी कहा जाता है :

जोधपुर के पूर्व महापौर रामेश्वर दाधीच सीएम अशोक गहलोत के करीबी है। उनकी शक्ल गहलोत से काफी मिलती-जुलती है जिसके कारण उन्हें गहलोत के हमशकल के रूप में भी जाना जाता है। वर्ष 2018 में अशोक गहलोत के मुख्यमंत्री बनने के बाद उन्हें जोधपुर नगर निगम का महापौर बनाया गया था लेकिन उनका मन जोधपुर जिले की सूरसागर सीट से चुनाव लड़ने का मन था।

उन्होंने सूरसागर विधानसभा से कांग्रेस का टिकट देने की मांग उठाई थी लेकिन उन्हें टिकट नहीं मिला जिसपर उन्होंने पार्टी और अशोक गहलोत से कड़ा असंतोष जताया था।इसके बाद उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ने का फैसला किया था लकिन नामांकन वापसी के आखरी दिन यानी काल उन्होंने अपना नामांकन वापस लेकर आज भाजपा ज्वाइन कर ली। रामेश्वर दाधीच सूरसागर से कांग्रेस प्रत्याशी अयूब खान की 2018 में हार के बाद इस बार उनके बेटे टिकट दिए जाने से खफा थे।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

और खबरें

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com