हैदराबाद में अमित शाह
हैदराबाद में अमित शाहRaj Expresss

हैदराबाद में अमित शाह, 75 आरआर आईपीएस परिवीक्षार्थियों की दीक्षांत परेड को किया संबोधित

हैदराबाद में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने एसवीपीएनपीए, हैदराबाद में 75 आरआर आईपीएस परिवीक्षार्थियों की 'दीक्षांत परेड' को संबोधित किया।

हाइलाइट्स :

  • IPS प्रोबेशनर्स के 75वें बैच की पासिंग आउट परेड में शामिल हुए अमित शाह

  • अमित शाह ने 75 आरआर आईपीएस परिवीक्षार्थियों की 'दीक्षांत परेड' को संबोधित किया

  • देश की आंतरिक सुरक्षा संभालने में टेक्नोलॉजी का एक अहम रोल होने वाला है: अमित शाह

हैदराबाद, भारत। केंद्रीय गृह मंत्री और सहकारिता मंत्री अमित शाह ने आज शुक्रवार को हैदराबाद दौरे पर है। इस दौरान उन्‍होंने भारतीय पुलिस सेवा (IPS) प्रोबेशनर्स के 75वें बैच की पासिंग आउट परेड में शामिल हुए और एसवीपीएनपीए, हैदराबाद में 75 आरआर आईपीएस परिवीक्षार्थियों की 'दीक्षांत परेड' को संबोधित किया।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने IPS प्रोबेशनर्स के 75वें बैच की पासिंग आउट परेड को संबोधित कर कहा, ''आज यहाँ से दीक्षित हो रहा 75 RR बैच का बहुत महत्त्व है क्योंकि जब देश आजादी की शताब्दी मनायेगा तब आप लोग पुलिस व्यवस्था में 25 साल की सेवा के बाद नेतृत्व कर रहे होंगे और देश की आंतरिक सुरक्षा की जिम्मेदारी आपके हाथों में होगी। आप इस मौके को अपने परिश्रम, निष्ठा, बलिदान और देश के प्रति समर्पण से इसे और ऐतिहासिक बनाए। सरदार पटेल ने NPA की स्थापना के समय कहा था कि इस संस्थान के पास पीछे मुड़कर देखने के लिए कुछ नहीं है, परंतु भविष्य की पीढ़ियों के लिए परंपरा स्थापित करने बहुत कुछ है।"

जब NPA स्थापना हुई तब इसका कोई इतिहास नहीं था, मगर 75 वर्षों में यहाँ से गए हुए आईपीएस ऑफिसर्स ने देश की सुरक्षा और आंतरिक सलामती को मजबूत कर एक यशस्वी इतिहास का निर्माण किया है, अब आप लोगों की जिम्मेदारी है कि,, आप इस इतिहास को आगे ले जाएं और इसमें स्वर्णिम पृष्ठ जोड़ें।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह

आगे उन्‍होंने यह भी कहा कि, 75 RR बैच में 175 प्रशिक्षु अधिकारियों में 34 महिला अधिकारी हैं, जो अब तक सबसे बड़ा महिला भागीदारी का उदाहरण है। मुझे विश्वास है कि आने वाले दिनों में आप देश की आंतरिक सुरक्षित व सीमओं की सुरक्षा में नए कीर्तिमान बनाएंगे। आने वाले दिनों में देश की आंतरिक सुरक्षा संभालने में टेक्नोलॉजी का एक अहम रोल होने वाला है। इसी को देखते हुए मोदी जी ने 'पुलिस टेक्नोलॉजी मिशन' की स्थापना की। इसका उद्देश्य:

- देश की पुलिस सेवाओं को टेक्नोलॉजी की दृष्टी से विश्व में सबसे सुसज्जित बनाना

- पुलिसिंग में और देश की आंतरिक सुरक्षा संभालने में टेक्नोलॉजी का उपयोग बढ़ाना

- पुलिस टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में अपराधियों से हमेशा दो कदम आगे रहे, ऐसी व्यवस्था करना

उन्‍होंने यह भी कहा कि, आज भारत अंग्रेजों के जमाने के कानूनों के युग से बाहर निकलकर, नई आशा, विश्वास और उमंग के साथ नए युग में प्रवेश कर रहा है। अंग्रेजों के कानूनों का उद्देश्य शासन को सुरक्षित रखना था, जबकि नए कानूनों का उद्देश जनता के अधिकारों को सुरक्षित रखना है, इस मूल-भूत अंतर के साथ लाये जा रहे यह तीनों कानून जब आप प्रशिक्षु से अधिकारी बनकर जायेंगे तब आपके हाथ में होंगे। इन कानूनों को जमीनीस्तर पर लागू करने की सबसे पहली जिम्मेदारी आपकी होगी, आप सभी को इन कानूनों को समझकर जनता के अधिकारों की सुरक्षा के लिए इनको लागू करना है। अब समय है हमें रिएक्शन, रेस्पोंस पुलिसिंग से आगे बढ़कर

- प्रिवेंटिव पुलिसिंग,

- प्रेडीक्टिव पुलिसिंग और

- प्रो-एक्टिव पुलिसिंग की तरफ जाना होगा।

मोदी जी के नेतृत्व में आतंकवाद के खिलाफ हमने जीरो टॉलरेंस की पॉलिसी अपनाई है, अब हमें इससे आगे बढ़कर जीरो टॉलरेंस स्ट्रेटेजी और जीरो टॉलरेंस एक्शन की ओर जाना है।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com