कानपुर में संविधान बचाओ भागीदारी पाओ रैली में अखिलेश यादव
कानपुर में संविधान बचाओ भागीदारी पाओ रैली में अखिलेश यादवRaj Express

कानपुर में संविधान बचाओ भागीदारी पाओ रैली में अखिलेश यादव, भाजपा पर बोला हमला...

उत्‍तर प्रदेश के कानपुर में समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव ने संविधान बचाओ भागीदारी पाओ रैली को संबोधित कर अपने संबोधन में कही ये बातें...

हाइलाइट्स :

  • संविधान बचाओ भागीदारी पाओ रैली में अखिलेश यादव

  • पूरे प्रदेश में भू माफिया कोई है तो भारतीय जनता पार्टी के नेता है : अखिलेश यादव

  • संविधान भी बचेगा, लोकतंत्र भी बचेगा और यह PDA ही है जो NDA को हराने का काम करेगा

कानपुर, उत्‍तर प्रदेश। उत्‍तर प्रदेश के कानपुर में आज रविवार को समाजवादी पार्टी के अध्‍यक्ष अखिलेश यादव संविधान बचाओ भागीदारी पाओ रैली में शामिल हुए। इस दौरान उन्‍होंने अपने संबाेधन में कहा, यहीं कानपुर में एक बीजेपी के नेता ने किसान से 6 करोड़ रुपए का चेक देकर जमीन लिखवा ली फिर किसान से कहा कि चेक में कुछ गड़बड़ी है वापस कर दो, उस चेक को वापस लिया और फाड़ दिया। आज भी उसका परिवार, उसकी दोनों बेटियां अधिकारियों के चक्कर काट रही हैं। बताओ यह कैसी सरकार है जिसने 2000 रुपए छापे और 2000 रुपए बंद कर दिए। याद कीजिए इन्होंने रुपए बंद किए थे और कहा था भ्रष्टाचार नहीं होगा आतंकवाद खत्म हो जाएगा। क्या बताओ भ्रष्टाचार खत्म हो गया? लूट खत्म हो गई? सबसे ज्यादा कोई लूट रहा है तो बीजेपी के लोग लूट रहे हैं।

मैं दावे के साथ कह कर जा रहा हूं आज अगर पूरे प्रदेश में भू माफिया कोई है तो भारतीय जनता पार्टी के नेता है। उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा जमीनें कोई खरीद रहा है तो भारतीय जनता पार्टी के लोग हैं।

समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव

आगे उन्‍होंने कहा, मुख्यमंत्री जी ने समाजवादियों पर आरोप लगाया कि, जब समाजवादी लोग होते थे तो 46 में 56 को नौकरी दे देते थे मैंने पूछा कि सूची कब दोगे आज तक सूची नहीं मिली है। संविधान भी बचेगा, लोकतंत्र भी बचेगा और यह PDA ही है जो NDA को हराने का काम करेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com