उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार गोवंश की कराएगी गणना, दिए यह आदेश...
उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार गोवंश की कराएगी गणना, दिए यह आदेश...Raj Express

उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार गोवंश की कराएगी गणना, दिए यह आदेश...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है- तीनों श्रेणियों में प्राथमिकता के आधार पर गणना कराई जाए। इसके बाद इसकी जियो टैगिंग की जाए।

हाइलाइट्स :

  • निराश्रित गोवंश के प्रबंधन के लिए होंगे पुख्ता इंतजाम

  • CM योगी का आदेश- तीनों श्रेणियों में प्राथमिकता के आधार पर गणना कराई जाए

  • निराश्रित गोवंश संरक्षण की दिशा में प्रयासों के संतोषप्रद परिणाम मिल रहे

उत्‍तर प्रदेश, भारत। उत्‍तर प्रदेश की योगी सरकार द्वारा अब गोवंश की गणना कराए जाने का निर्णय लिया गया है। सरकार गोवंश संवर्धन, संरक्षण के लिए सेवाभाव के साथ सतत प्रयासरत है। गोवंश सहित सभी पशुपालकों के प्रोत्साहन के लिए सरकार अनेक योजनाएं चलाकर पात्र लोगों को इसका लाभ भी सुनिश्चित करा रही है। योगी सरकार की तरफ से निराश्रित गोवंश के प्रबंधन के लिए पुख्ता इंतजाम होंगे।

इस दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आदेश दिया है- तीनों श्रेणियों में प्राथमिकता के आधार पर गणना कराई जाए। इसके बाद इसकी जियो टैगिंग की जाए। पहले चरण में इन गोवंशों की गणना कराई जाएगी। इसके बाद अगले चरण में इनसे जुड़ी कार्ययोजना बनाकर उस पर कार्य होगा, जिससे गोवंश को समुचित स्थान मिले। सरकार कान्हा उपवन के जरिए गोवंश का संरक्षण कर रही है, लेकिन सड़कों पर घूमने वाले गोवंशों का भी संवर्धन हो और इनकी वजह से आमजन-किसानों को परेशानी न हो। इस पर भी योगी सरकार का पूरा ध्यान है।

योगी सरकार की तरफ से निराश्रित गोवंश संरक्षण की दिशा में सतत प्रयासों के संतोषप्रद परिणाम मिल रहे हैं। वर्तमान में 6889 निराश्रित गोवंश स्थलों में 11.89 लाख गोवंश संरक्षित हैं। इनके साथ-साथ गोवंश संरक्षण के लिए संचालित मुख्यमंत्री सहभगिता योजना के भी अच्छे परिणाम मिले हैं।

गोवंश की दर से उपलब्ध कराई जा रही धनराशि बढ़ाई :

अब तक 1.85 लाख से अधिक गोवंश इस योजना के तहत गो-सेवकों को सुपुर्द किए गए हैं। निराश्रित गोवंश स्थलों तथा गोवंश की सेवा कर रहे सभी परिवारों को गोवंश के भरण-पोषण के लिए वर्तमान में 30 रुपये प्रति गोवंश की दर से उपलब्ध कराई जा रही धनराशि बढ़ाकर 50 रुपये प्रति गोवंश की गई।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com