पुष्कर सिंह धामी
पुष्कर सिंह धामीRaj Express

फिल्म हब के रूप में विकसित होगा उत्तराखंड, नयी फिल्म नीति जल्द : पुष्कर सिंह धामी

नैनीताल, उत्तराखंड : उत्तराखंड को फिल्म पर्यटन के अनुकूल बनाना उनकी सरकार की प्राथमिकता है। प्रदेश को फीचर फिल्म, वेब सीरीज, टीवी सीरियल आदि के हब के रूप में विकसित किया जाएगा।

हाइलाइट्स :

  • उत्तराखंड को फिल्म पर्यटन के अनुकूल बनाना उनकी सरकार की प्राथमिकता है।

  • उत्तराखंड सरकार जल्द ही नयी फिल्म नीति ला रही है।

  • इसके लिये विभिन्न राज्यों की फिल्म नीति का अध्ययन किया जा रहा है।

नैनीताल, उत्तराखंड। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को कहा कि उत्तराखंड को फिल्म हब के रूप में विकसित किया जायेगा और इसके लिये उनकी सरकार जल्द ही नयी फिल्म नीति ला रही है।

पुष्कर सिंह धामी ने यह बात सोमवार को नैनीताल दौरे पर बलरामपुर हाउस में वेब सीरीज काफल के प्रोमोशन के मौके पर कही। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड को फिल्म पर्यटन के अनुकूल बनाना उनकी सरकार की प्राथमिकता है। प्रदेश को फीचर फिल्म, वेब सीरीज, टीवी सीरियल आदि के हब के रूप में विकसित किया जाएगा।

उन्होंने यह भी कहा कि हाल ही में राज्य को बेस्ट फिल्म फ्रेंडली स्टेट का पुरस्कार मिला है। सरकार की ओर से फिल्म निर्माण से जुड़े लोगों को आनलाइन अनुमति की व्यवस्था की गयी है। प्रदेश सरकार जल्द ही नयी फिल्म नीति ला रही है। इसके लिये विभिन्न राज्यों की फिल्म नीति का अध्ययन किया जा रहा है।

उन्होंने आगे कहा कि उनकी सरकार की ओर से कुमाऊंनी, गढ़वाली एवं जौनसारी फिल्मों एवं वेब सीरीज के निर्माण पर 50 प्रतिशत सब्सिडी दी जा रही है। इससे स्थानीय लोक कला एवं संस्कृति को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने यह भी कहा कि प्राकृतिक रूप से खूबसूरत उत्तराखंड शूटिंग के लिये एक प्रमुख स्थल है। उन्होंने फिल्म निर्माताओं से प्रदेश ही हसीन वादियों का लाभ लेकर फिल्म निर्माण की मांग की।

मुख्यमंत्री ने हिमश्री फिल्म और डिज्नी हाटस्टार के संयुक्त तत्वावधान में बनायी जा रही वेब सीरिज काफल की प्रशंसा की और पूरी टीम को शुभकामनायें भी दी। इस वेब सीरिज का निर्माण पूर्व मुख्यमंत्री और पूर्व केन्द्रीय मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक की सुपुत्री की ओर से किया जा रहा है।

रोमाटिंक और कामेडी पर आधारित इस फिल्म में 150 से अधिक स्थानीय कलाकार हैं। इस फिल्म के माध्यम से उत्तराखंड की कला और संस्कृति का प्रचार-प्रसार किया जा सकेगा।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com