Mamta Govt के खिलाफ बोलने वाले पर आर्म्स एक्ट-सामूहिक बलात्कार का होगा मामला दर्ज - अग्निमित्रा पॉल
Mamta Govt के खिलाफ बोलने वाले पर आर्म्स एक्ट-सामूहिक बलात्कार का होगा मामला दर्ज - अग्निमित्रा पॉलRaj Express

Mamta Govt के खिलाफ बोलने वाले पर आर्म्स एक्ट-सामूहिक बलात्कार का होगा मामला दर्ज - अग्निमित्रा पॉल

Complaint of Molestation Filed Against Governor CV Anand Bose : BJP नेता अग्निमित्रा पॉल ने राज्यपाल डॉ. सीवी आनंद बोस पर छेड़खानी का आरोप लगाने पर ममता बनर्जी सरकार (Mamta Govt) पर निशाना साधा है।

हाइलाइट्स

  • राज्यपाल पर कथित छेड़खानी की शिकायत पर बोलीं अग्निमित्रा पॉल

  • अग्निमित्रा पॉल ने ममता बनर्जी सरकार पर साधा निशाना।

Complaint of Molestation Filed Against Governor CV Anand Bose : खड़गपुर, पश्चिम बंगाल। सिर्फ राज्यपाल के खिलाफ नहीं, राज्य में जो भी ममता बनर्जी सरकार (Mamta Govt) के खिलाफ बोलेगा, उन पर आर्म्स एक्ट, छेड़छाड़ का और सामूहिक बलात्कार का मामला दर्ज किया जाएगा। यह बात भाजपा नेता अग्निमित्रा पॉल (Agnimitra Paul) ने राज्यपाल डॉ. सीवी आनंद बोस पर छेड़खानी का सनसनीखेज आरोप लगाने पर कही है। दरअसल बीते दिन गुरूवार को एक अस्थायी महिला कर्मी ने राज्यपाल डॉ. सीवी आनंद बोस (Governor CV Anand Bose) पर छेड़खानी का सनसनीखेज आरोप लगाया है। महिला ने थाने में शिकायत की है।

भाजपा नेता अग्निमित्रा पॉल ने कहा, ममता बनर्जी सरकार (Mamata Govt) एक ऐसी सरकार है जो हर चीज पर नियंत्रण करना चाहती है। चाहे वह पुलिस हो या प्रशासन, वे नियंत्रण में हैं लेकिन, न्यायपालिका और राज्यपाल अभी भी उनके हाथ में नहीं हैं। जब राज्यपाल (Dr. CV Anand Bose) ने उनकी गलत नीतियों और अन्याय के बारे में बात करना शुरू किया, तो उन्होंने राज्यपाल के खिलाफ छेड़छाड़ (Complaint of Molestation Filed Against Governor CV Anand Bose) का मामला दर्ज किया।

यह है मामला :

दरअसल, बीते दिन गुरुवार को देर शाम कोलकाता राजभवन में कार्यरत अस्थायी महिला कर्मचारी ने राज्यापार डॉ. सीवी आनंद बोस (Governor CV Anand Bose) पर छेड़खानी का सनसनीखेज आरोप लगाया है। महिला ने हेयर स्ट्रीट थाने में शिकायत की है। लिखित शिकायत में महिला ने दावा किया है कि, राज्यपाल ने दो बार उसके साथ छेड़खानी की है। पहली घटाना बीते 24 अप्रैल को हुई इसके बाद 2 मई को राज्यपाल द्वारा फिर से छेड़खानी की गई। इस मामले में राजभवन की तरफ से कहा गया कि, सत्य की जीत होगी।

महिला ने अपनी शिकायत में आरोप लगाया है कि, राज्यपाल ने उसे बायोडाटा के साथ राजभवन स्थित अपने चेंबर में आने को कहा, जहां उसके साथ छेड़खानी की गई। महिला ने पहले राजभवन में स्थित आउटपोस्ट में तैनात पुलिसकर्मियों से इसकी शिकायत की। वहां से उसे थाने में जाने को कहा गया। पुलिस ने महिला का परिचय गोपनीय रखा गया है। पता चला है कि महिला 2019 से राजभवन में अस्थायी रूप से कार्यरत है। वह राजभवन परिसर में स्थित हॉस्टल में रहती है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com