वेटलॉस के लिए खाने चाहिए ये 4 फाइबर रिच फ्रूट्स
वेटलॉस के लिए खाने चाहिए ये 4 फाइबर रिच फ्रूट्सRaj Express

वेटलॉस के लिए खाने चाहिए ये 4 फाइबर रिच फ्रूट्स, एक्‍सपर्ट ने बताए इनके फायदे

वेट मेंटेन करने के लिए फाइबर की मात्रा का काफी ध्यान रखना होता है। यहां कुछ फलों के बारे में बताया गया है, जो फाइबर से भरपूर हैं। वेटलॉस के लिए आप इन्‍हें अपनी डेली डाइट में शामिल कर सकते हैं।

हाइलाइट्स :

  • फाइबर हमारे शरीर के लिए जरूरी पोषक‍ तत्‍व है।

  • फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ आपके वजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।

  • फाइबर हमें स्‍वस्‍थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

  • फाइबर को भूख को प्रबंधित करने में फायदेमंद माना गया है।

राज एक्सप्रेस। क्‍या आप भी मोटापा कम करने के लिए जिम में घंटों पसीना बहाते हैं। एक्‍सरसाइज के साथ डाइट करते हैं और भी ऐसे तमाम तरीके होंगे, जो आप वजन कम करने के लिए आजमा चुके होंगे। लेकिन कभी-कभी इन सभी से शरीर पर उल्‍टा असर हो जाता है। तो क्‍याें न अपने आहार में फाइबर को शामिल किया जाए। जी हां, फाइबर से भरपूर खाद्य पदार्थ आपके वजन को कम करने में मदद कर सकते हैं।

बता दें कि फाइबर एक ऐसा पोषक तत्‍व है, जो हमें स्‍वस्‍थ रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यह एक न पचने वाला कार्बोहाइड्रेट है, जो पाचन को बढ़ावा देने के अलावा भूख को प्रबंधित करने में फायदेमंद माना गया है। इतना ही नहीं पाचन को बढ़ावा देने के साथ ही यह वजन भी घटाता है। गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट डॉ. विल बुलसिविक्ज़ ने अपने इंस्टाग्राम पर एक रील शेयर की है। इसमें उन्‍होंने ऐसे 4 फाइबर से भरपूर फलों के बारे में बताया है, जो वेटलॉस में बहुत असरदार हैं। तो आइए जानते हैं इन फाइबर रिच फ्रूट्स के बारे में।

वेटलॉस में फाइबर क्‍यों फायदेमंद

फाइबर हमारे शरीर के लिए जरूरी पोषक‍ तत्‍व है। हमारी बॉडी खुद से फाइबर प्रोड्यूस नहीं करती। इसलिए शरीर में इसकी मात्रा बढ़ाने के लिए ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना पड़ता है, जो फाइबर से भरपूर हों। जिन चीजों में फाइबर की मात्रा ज्‍यादा रहती है, उन्‍हें खाने के बाद पेट काफी लंबे समय तक भरा रहता है। जिससे फूड इंटेक कम हाेता है और वजन अपने आप घटने लगता है। इतना ही नहीं फाइबर के सेवन से शरीर में जमा अशुद्धियां और टॉक्सिन भी बाहर निकल जाते हैं, जिससे शरीर में फैट जमा होने की गुंजाइश नहीं बचती। नतीजतन वजन नहीं बढ़ पाता।

रास्पबेरी

बुलसिविक्ज़ ने आंत के स्वास्थ्य और वजन घटाने के लिए रसभरी जैसे फल को अपने आहार में शामिल करने की सलाह दी है। उनके मुताबिक यह एक हाई फाइबर फल है। एक कप रसभरी में लगभग 8 ग्राम फाइबर होता है और यह विटामिन सी से भी भरपूर है। अगर आप वजन घटाने की सोच रहे हैं, तो इन्‍हें ब्रेकफास्ट में लेना शुरू कर दें। आप चाहें, तो दलिया या स्मूदी बाउल में टॉपिंग के रूप में इनका उपयोग कर सकते हैं।

अंजीर

अंजीर को अक्‍सर ठंडे मौसम में सूखा खाया जाता है। इसलिए इन दिनों वजन घटाने के लिए अंजीर का सेवन अच्‍छा है। एक्‍सपर्ट के अनुसार, एक अंजीर में 1 से 2 ग्राम फाइबर होता है। साथ ही, यह कैल्शियम और मैग्नीशियम का बेहतरीन स्रोत भी है, इसलिए ये आपकी हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ रखने में मदद करता है। इसे आप नाश्ते, दोपहर के भोजन, रात के खाने और पौष्टिक मिठाई के विकल्‍प के रूप में अपने आहार में शामिल कर सकते हैं।

एवोकाडो

एवोकाडो फाइबर से भरपूर फल है। इसमें घुलनशील और अघुलशील दोनों तरह के फाइबर मौजूद हैं। ये मल त्‍याग को आसान बनाने के साथ ही कब्‍ज से भी राहत दिलाते हैं। एक मीडियम साइज के एवोकाडो में 10 ग्राम फाइबर होता है, जो न केवल वजन घटाने बल्कि स्वस्थ आंत के कार्य को बढ़ावा दे सकता है। इंटरनेशनल जर्नल ऑफ साइको फिजियोलॉजी 2020 की एक स्‍टडी के अनुसार एवोकाडो दिमाग की सेहत के लिए भी बहुत अच्‍छा है।

कीवी

दो कीवी में लगभग 5 ग्राम फाइबर होता है। यह फाइबर पानी को अवशोषित करता है। गैस्ट्रोएंटेरोलॉजिस्ट के अनुसार, कीवी कब्ज और आंत के लक्षणों में सुधार करने के लिए जानी जाती है। दिन में दो बार इसका सेवन करने से आप बार-बार स्‍नैकिंग करने से बच जाएंगे, जिससे वजन घटाने में बहुत मदद मिलेगी। यूरोपियन जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन 2018 की स्टडी में भी इसका जिक्र किया गया है। स्‍टडी के अनुसार, कब्‍ज से पीड़ित रहने वाले लोगों के लिए कीवी बहुत फायदेमंद है। बता दें कि कब्‍ज की स्थिति में मेटाबॉलिज्म स्‍लो हो जाता है, जिससे वजन बढ़ सकता है। इस तरह से बढ़े हुए वजन को कम करने में भी बहुत दिक्‍कत आती है।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com