आई फ्लू से जल्‍दी ठीक होना है, तो तुरंत अपनाएं ये टिप्‍स
आई फ्लू से जल्‍दी ठीक होना है, तो तुरंत अपनाएं ये टिप्‍सSyed Dabeer Hussain - RE

आई फ्लू से जल्‍दी ठीक होना है, तो तुरंत अपनाएं ये टिप्‍स

एलर्जी, वायरस और बैक्टीरिया कंजक्टिवाइटिस का कारण बन सकते हैं। इसमें आंखें गुलाबी होने के साथ ही इनमें जलन महसूस होती है। यहां बताए गए टिप्‍स इस संक्रामक रोग से बचने में आपकी मदद कर सकते हैं।

हाइलाइट्स :

  • कंजक्टिवाइटिस को पिंक आई या आई प्‍़लू के नाम से भी जानते हैं।

  • यह एक संक्रामक रोग है।

  • आंखों को बार-बार न छुएं।

  • आई ड्रॉप, कॉन्‍टेक्‍ट लैंस शेयर करने से बचें।

राज एक्सप्रेस। कंजक्टिवाइटिस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। आई फ्लू की यह बीमारी एकदम कोरोनी की तरह फैल रही है। इसे कोरोना की ही तरह काफी संक्रामक माना जा रहा है। आई फ्लू किसी व्‍यक्ति की आंख में देखने से ही नहीं, बल्कि कई तरह से फैल रहा है। हालांकि, लोग इस प्रकोप से बचने के लिए पहले से ही आई ड्रॉप और घरेलू उपायों का इस्‍तेमाल कर रहे हैं, लेकिन एहतियाती उपायों के बावजूद भी लोग इससे बच नहीं पा रहे। घर में अगर किसी एक को आई फ्लू हुआ है, तो घर के अन्‍य लोगों में यह तेजी से फैल सकता है। कंजक्टिवाइटिस होने पर आंखें पूरी तरह से लाल, चिपचिपी और खुजलीदार हो जाती हैं। इस संक्रमण से उबरने के लिए आंखों की अच्‍छी केयर करने की सलाह दी जा रही है। यहां इससे बचने और जल्‍दी ठीक होने के लिए कुछ टिप्‍स बताए हैं।

आंखों को रगड़ना बंद करें

आई फ्लू के दौरान आंखें काफी संवेदनशील हो जाती हैं। इसलिए इन्‍हें गंदे हाथों से छूना और बार-बार रगड़ने से बचना चाहिए। इससे समस्‍या और गंभीर हो सकती है। इतना ही नहीं,आपके ऐसा करने से दूसरों में संक्रमण बहुत जल्‍दी फैल सकता है। बेहतर है कि अपने हाथों को बार-बार साबुन और पानी से धोते रहें।

आंखों के मेकअप से बचें

कंजंक्टिवाइटिस के लक्षण दिखने पर ही आंखों में मेकअप करना बंद कर देना चाहिए। अगर मेकअप करना ही है, तो अपने मेकअप ब्रश और प्रोडक्‍ट़स को नियमित रूप से साफ करते रहें।

बिस्‍तर साफ रखें

बैक्टीरिया के संचय से बचने के लिए अपने बिस्तर और तौलिया को बार-बार बदलें। अच्‍छा रहेगा अगर आप इन्‍हें गर्म पानी और डिटर्जेंट से धोएं। यह आई फ्लू से निजात पाने का बेहतरीन तरीका है।

चीजें शेयर न करें

आई ड्रॉप, कॉन्‍टेक्‍ट लैंस और कॉस्‍मेटिक प्रोडक्‍ट ऐसी चीजें हैं, जिन्‍हें जितना शेयर करने से बचेंगे उतना आपके लिए अच्‍छा है। इससे वायरस फैलने के जोखिम को कम करने में बहुत मदद मिलेगी।

कोल्‍ड कंप्रेस

कोल्‍ड कंप्रेस से भी बहुत राहत मिलती है। इसके लिए लिनन का एक साफ कपड़ा लें और इसे बर्फ के ठंडे पानी में डुबोएं। कपड़े से अतिरिक्त पानी निकालकर अपनी आंखों पर लगाएं। इससे आंखों में होने वाली खुजली और सूजन को कम करने में मदद मिल सकती है। इस प्रक्रिया को कम से कम 5-10 मिनट तक कई बार दोहराएं। संक्रमण को बढ़ने से रोकने के लिए दोनों आंखों के लिए अलग-अलग कपड़े के टुकड़े का उपयोग करने की सलाह दी जाती है।

गर्म सेक करें

आई फूल होने पर खुजली और दर्द से राहत पाना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में आंखों को साफ पानी से धोते रहें। साथ ही नरम और साफ कपड़े से इन्‍हें पोछें। जल्‍दी ठीक होने के लिए गर्म सेक भी बहुत असरदार साबित हो सकता है।

कंजक्टिवाइटिस से बचने के लिए करें ये उपाय

एलोवेरा जेल का प्रयोग करें

अगर आपके घर में एलोवेरा है, तो कंजक्टिवाइटिस की स्थिति में इसका इस्‍तेमाल कर सकते हैं। बता दें कि एलोवेरा में एलोइन और अमोडिन जैसे कंपोनेंट होते हैं। जिनमें एंटी-बैक्टीरियल और एंटी-वायरल गुण पाए जाते हैं। एलोवेरा सूजन को कम करने के साथ ही फास्‍ट रिकवरी के लिए जाना जाता है। कंजंक्टिवाइटिस के लक्षण दिखने पर संक्रमित क्षेत्र के आसपास एलोवेरा जेल लगाएं। बहुत आराम मिलेगा।

गुलाब जल डालें

कंजक्टिवाइटिस में गुलाबजल जैसा नुस्‍खा बहुत अच्‍छा काम करता है। इसमें एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। अगर संक्रमित आंखों में लगातार दो से तीन दिन तक गुलाब जल डाला जाए, तो कंजक्टिवाइटिस में थोड़ा आराम मिलता है। आप चाहें तो गुलाब जल में रुई भिगोकर भी अपनी आंखों पर रख सकते हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com