जियोवन्नी विगलियोटो
जियोवन्नी विगलियोटोSyed Dabeer Hussain - RE

14 देशों में की 100 से ज्यादा शादियां, जानिए सबसे ज्यादा शादी करने वाले शख्स के बारे में

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जियोवन्नी विगलियोटो नाम के एक शख्स का वीडियो शेयर किया है। अमेरिका के रहने वाले इस शख्स ने साल 1948 से साल 1981 के बीच कुल 105 लड़कियों से शादी की।

राज एक्सप्रेस। अक्सर हम मीडिया या सोशल मीडिया पर किसी शख्स के 2 या 3 शादी करने की खबरे सुनते रहते हैं। लेकिन क्या आपने कभी ऐसे शख्स के बारे में सुना, जिसने अपने जीवन में 100 से भी अधिक शादी की। खास बात यह है कि इस शख्स ने अपनी किसी भी पत्नी को तलाक नहीं दिया। इस शख्स का नाम सबसे ज्यादा शादियां करने के चलते गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में भी दर्ज है। तो चलिए जानते हैं 100 से अधिक शादियां करने वाला यह शख्स कौन है और इसने इतनी शादियां क्यों की।

गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड ने शेयर किया वीडियो :

दरअसल हाल ही में गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड ने अपने ट्विटर अकाउंट पर जियोवन्नी विगलियोटो नाम के एक शख्स का वीडियो शेयर किया है। अमेरिका के रहने वाले इस शख्स ने साल 1948 से साल 1981 के बीच कुल 105 लड़कियों से शादी की। इस दौरान इसने किसी भी महिला से तलाक नहीं लिया। विगलियोटो ने सिर्फ अमेरिकी ही नहीं बल्कि 14 देशों की लड़कियों से शादी की थी। इतनी शादियां करने के चलते इसका नाम गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है।

क्यों की इतनी शादियां?

दरअसल विगलियोटो ने इतनी शादियां पैसे के लिए की थी। वह महिलाओं को पहली डेट पर ही शादी के लिए प्रपोज कर देता था। जब महिलाएं इसके झांसे में आकर इससे शादी कर लेती थी तो विगलियोटो उनके पैसे और कीमती सामान लेकर भाग जाता। विगलियोटो चुराए सामान को चोर बाजार में बेचकर अपना दूसरा शिकार ढूंढना शुरू कर देता था। खास बात यह है कि विगलियोटो हर महिला से एक अलग नाम के साथ मिलता था। ऐसे में उसका असली नाम क्या है, इसको लेकर कोई सही जानकारी नहीं है। जियोवन्नी विगलियोटो नाम उसने अपनी आखिरी पत्नी को बताया था।

कैसे आया पकड़ में?

विगलियोटो को गिरफ्तार करवाने में उसकी आखिरी शिकार शेरोना क्लार्क ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। विगलियोटो से मिले धोखे के चलते शेरोना ने उसे खुद ही ढूंढने का फैसला किया। शेरोना ने अलग-अलग शहरों में विगलियोटो की खोज की और आखिरकार उसे पकड़ लिया। साल 1983 में कोर्ट ने विगलियोटो को 34 साल की सजा सुनाई थी। हालांकि साल 1991 में ब्रेन हेमरेज के चलते जेल में ही विगलियोटो का निधन हो गया था।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com