दुनियाभर के देशों के बीच चंद्रमा पर जाने की क्यों मची है होड़
दुनियाभर के देशों के बीच चंद्रमा पर जाने की क्यों मची है होड़Syed Dabeer Hussain - RE

जानिए दुनियाभर के देशों के बीच चंद्रमा पर जाने की क्यों मची है होड़?

आने वाले समय में अमेरिका और चीन भी चांद पर अंतरिक्ष यान उतारने की कोशिश करेंगे। ऐसे में आज हम जानेंगे कि आखिर दुनिया के ताकतवर देशों के बीच चंद्रमा पर जाने की होड़ क्यों मची हुई है?

हाइलाइट्स :

  • दुनिया के ताकतवर देश चंद्रमा पर अपना बेस बनाना चाहते हैं।

  • चंद्रमा पर भारी मात्रा में खनिज तत्व हो सकते हैं।

  • दुनिया के ताकतवर देश चांद पर जीवन की संभावना को भी तलाश रहे हैं।

राज एक्सप्रेस। इस समय भारत का डंका पूरी दुनिया में बज रहा है। इसका कारण यह है कि भारत ने अपने चंद्रयान-3 की चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव पर सफल लैंडिंग करा दी है। इसी के साथ भारत चांद पर जाने वाला चौथा और दक्षिणी ध्रुव पर जाने वाला दुनिया का पहला देश बन गया है। भारत से पहले 21 अगस्त को रूस ने अपने लूना-25 को चंद्रमा के दक्षिणी हिस्से में लैंड करवाने की कोशिश की थी, लेकिन वह फैल हो गया है। वहीं आने वाले समय में अमेरिका और चीन भी चांद पर अंतरिक्ष यान उतारने की कोशिश करेंगे। ऐसे में आज हम जानेंगे कि आखिर दुनिया के ताकतवर देशों के बीच चंद्रमा पर जाने की होड़ क्यों मची हुई है?

पूरे अंतरिक्ष पर नजर

दरअसल दुनिया के ताकतवर देश चंद्रमा पर अपना बेस बनाना चाहते हैं, ताकि इसके जरिए वह दूसरे ग्रहों पर भी अपनी उपस्थिति दर्ज करवा सकें। इसका कारण यह है कि इन ग्रहों की पृथ्वी से दूरी अधिक है जबकि चंद्रमा से दूरी कम है। उदाहरण के लिए अगर वैज्ञानिक चांद पर मौजूद पानी को ऑक्सीजन और हाइड्रोजन में तोड़कर स्वच्छ रॉकेट फ्यूल बनाने में सफल हो गए तो ऐसी स्थिति में मंगल पर जाने वाला स्पेसक्राफ्ट रास्ते में चंद्रमा पर रूककर फ्यूल भरवा सकेगा। इसके अलावा चांद पर पहुंचने की होड़ के पीछे वहां सिर्फ फ्यूल भरवाना ही नहीं बल्कि वहां से मिशन लॉन्च करना भी एक बड़ी वजह है।

कीमती धातुओं की खोज

माना जा रहा है कि चंद्रमा पर भारी मात्रा में सोना, प्लेटिनम, टाइटेनियम, यूरेनियम जैसी खनिज तत्व हो सकते हैं। ऐसे में जो देश पहले चांद पर पहुंचकर इन पर कब्जा कर लेगा, वह मालामाल हो सकता है।

जीवन की संभावना

दुनिया के ताकतवर देश चांद पर जीवन की संभावना को भी तलाश रहे हैं। चांद पर मौजूद पानी से खेती की जा सकती है। हालांकि वहां का तपमान बेहद कम है। ऐसे में वैज्ञानिक यह पता लगाने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या चांद इंसानों के रहने लायक हो सकता है।

ताकतवर दिखने की होड़

ताकतवर देश चांद पर पहुंचकर दुनिया को अपनी ताकत दिखाना चाहते हैं। यहीं कारण है कि अमेरिका, चीन, रूस और भारत इस होड़ में लगे हुए हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे राज एक्सप्रेस वाट्सऐप चैनल को सब्स्क्राइब कर सकते हैं। वाट्सऐप पर Raj Express के नाम से सर्च कर, सब्स्क्राइब करें।

Related Stories

No stories found.
logo
Raj Express | Top Hindi News, Trending, Latest Viral News, Breaking News
www.rajexpress.com